इस मंदिर में चढ़ा दिए भक्तों ने कई टन विदेशी सिक्के

नई दिल्ली-देश के सबसे समृद्ध मंदिरों में से एक तिरुमाला स्थित भगवान वेंकटेश्वर मंदिर को दान किए गए विभिन्न देशों के 35 टन सिक्कों को बैंक से भारतीय मुद्रा में बदला जाएगा। तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) के कार्यकारी अधिकारी डी संबाशिव राव ने बताया कि विश्व के विभिन्न भागों के दर्शनार्थियों द्वारा पहाड़ी पर स्थित हुंडी में सिक्के डाले जाते हैं।इस मंदिर का 4.5 टन सोना बैंकों में रखा हुआ है। जिससे हर साल मंदिर को ब्याज के रूप में 80 किलो सोना मिलता है। मंदिर के आंतरिक सूत्रों के अनुसार देश के सबसे समृद्ध मंदिरों में से एक माने जाने वाले भगवान वेंकटेश्वर के इस मंदिर की कुल संपत्ति का यह आंशिक हिस्सा ही है। जुलाई 2014 में एक अन्य मंदिर तिरुवनन्तपुरम के पद्मनाभ स्वामी मंदिर का नाम सबसे धनाढ्य मंदिर के रूप में उभरा था। आईसीआईसीआई बैंक ने की पहल
आरबीआई के आदेशानुसार, आईसीआईसीआई बैंक ने इसके प्रति अपनी इच्छा व्यक्त की है और सिक्कों को लेने के लिए आगे आया है। अधिकतर सिक्के मलयेशिया, सिंगापुर और अमेरिका के हैं।दक्षिण में मंदिरों में इतनी ज्यादा चल अचल संपत्ति है कि अगर उसका आकलन किया जाए तो भारत की समृद्धि और भी बढ़ जाएगी |


Share this story