पाकिस्तान की और भी बड़ी मुश्किलें भारत ने खरीदे आधुनिक हथियार

नई दिल्ली -अब पाकिस्तान को मानसिक तौर पर भी मात करने की तयारी है | एक तरफ जहाँ भारत पाकिस्तान के बीच तनाव चल रहा है वहीँ भारत ने अपने सैन्य शक्तियों को बढ़ा कर पाकिस्तान को मानसिक रूप से भी कमजोर करने किया है |थलसेना के लिए 464 टी-90 टैंक खरीदे जाएंगी। ये टैंक ऑर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड (ओएफबी) से 13,448 करोड़ रूपये मे खरीदे जाएंगे। इसके अलावा थलसेना के लिए 1100 करोड़ रूपये कीमत के 598 मिनी यूएवी खरीदने के लिए हरी झंडी दी गई। तो वहीं थलसेना के लिए ही 14,633 करोड़ रूपये के 6 अतिरिक्त पिनाका मिसाइल की रेजीमेंट को मंजूरी दी गई है।
पाक के साथ सीमा पर तनाव के बीच रक्षा मंत्रालय ने आज 80 हजार करोड़ रुपये से भी अधिक के सैन्य साजो-सामान खरीदने की मंजूरी दे दी। इसमें सेना के लिए 464 टैंक और वायुसेना के लिए 83 तेजस लड़ाकू विमान शामिल हैं। इस लेकर आज रक्षा मंत्रालय की उच्च-स्तरीय रक्षा खरीद परिषद की बैठक हुई। बैठक की अध्यक्षता रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने की जिसमें तीनों सेनाओं के प्रमुख मौजूद थे।
भारत पाकिस्तान के बीच चल रहा है अघोषित युद्ध
खरीद परिषद ने वायुसेना के लिए 83 तेजस लड़ाकू विमानों के खरीदने के लिए मंजूरी दी। एचएएल से ये विमान आईडीडीएम यानि इंडियन डिजाइन डेवलेपड एडं मैन्युफेक्चर कैटेगरी के तहत 50 हजार करोड़ रूपये में खरीदे जाएंगे। इसके अलावा वायुसेना के लिए 10 लाइट काॅम्बेट हेलीकाॅप्टर और थलसेना के लिए 05 हेलीकाॅप्टर्स को भी मंजूरी दी गई है।
सर्जिकल स्ट्राइक के बाद जिस तरह से भारत को व्यापक समर्थन मिला है वहीँ पाकिस्तान की जहाँ अंतर्राष्ट्रीय मंच पर फजीहत हुई वहीँ पाकिस्तान अपने ही देश में घिर गया है | अपनी हतासा को छुपाने के लिए वह लगातार भारत के ऊपर हमले कर रहा है जबकि ज्यादा नुक्सान उसे ही हुआ है |

Share this story