डाक्टर या नर्सिंग होम चेक से न ले भुगतान तो करें डीएम से शिकायत

नई दिल्ली -अगर कोई डाक्टर या नर्सिंग होम मरीज क्व इलाज में पैसे न होने के कारण इलाज करने से मना करता है तो उसे चेक से भुगतान करें और कोई भी अगर चेक से भुगतान लेने से मना करता है तो इसकी शिकायत वहां के जिलाधिकारी से करें । यह कहना है वित्त मंत्री अरुण जेटली का जिन्होंने निजी चैनल से बात करते हुए कहा कि सरकारी सेवाओं में पुराने नोट को कुछ दिनों के लिए पहले से ही मान्य किया गया है वहीँ प्राइवेट नर्सिंग होम और डॉक्टरों को चेक से भुगतान दिया जा सकता है ।जिससे इलाज में कोई कमी न होने पाये । एटीएम में पैसों की कमी और बैंक में भारी भीड़ इसका असर स्वास्थ्य सेवाओं पर सबसे बुरा पड़ रहा था जिसको लेकर लीगों को सुझाव दिए गए हैं।

Share this story