पत्रकारों ने डीएम से मिलकर की विवादित एआरटीओ की सम्पत्ति जांच की मांग की

uttar pradesh gonda news arto babita verma corruption गोंडा।पत्रकारों से एआरटीओ का बीते दिनों में बेवजह उलझना उनके लिये उलझन बनता जा रहा है।





पत्रकारों ने जिलाधिकारी से मिलकर पांच सूत्रीय मांगपत्र देकर संभागीय परिवहन अधिकारी के खिलाफ कारवाई की संस्तुस्ति किये जाने की अपील की है। कहते हैं न इंसान का भूत उसका कभी पीछा नही छोड़ता। यही वजह है कि मंगलवार को पत्रकारों ने डीएम से मिलकर एआरटीओ बबिता वर्मा का मथुरा में रहते हुए आतंकवादी व मृत व्यक्तियों का डीएल बनाने की शिकायत को करते हुए यहां पनपे लूट खसोट की भी शिकायत की है।पत्रकारों का एक दल डीएम से मिलते हुए कवरेज के दौरान पत्रकारों के साथ कि गई अभद्रतापूर्ण व्यवहार की शिकायत की।


साथ ही दिए गए मांगपत्र में इनके हूटर लगी निजी गाड़ी से हूटर व बीम लाइट उतरवाकर उचित कारवाई भी किये जाने की मांग की। पत्रकारों ने एआरटीओ आरोप पर लगाते हुए इनकी बेनामी सम्पति,फिक्स डिपॉजिट, स्वर्ण आभूषण जो भी इनके द्वारा अपनी सेवाकाल में अर्जित की गई हो की जांच विजिलेंस से करवाने की मांग की है।

उक्त अवसर पर जे पी सिंह , कल्प राम त्रिपाठी, विजय सोनी,शिव कुमार द्विवेदी,जगतपाल सिंह, मारूफ , ए आर उस्मानी,पंकज सिन्हा विजय सोनी,दुर्गेश जायसवाल,राहुल तिवारी,वैश अंसारी,हामिद अली,शक्तिमान सोनकर,रघुराज सोनकर,राहुल तिवारी,सुनील तिवारी,पुनीता मिश्रा,सुरेश कनौजिया,प्रदीप तिवारी,राजेश तिवारी , खुशबू कनौजिया आदि दर्जनों पत्रकार उपस्थित रहे।

Share this story