लालू ने मोदी को कहा भाइयों और बहनों कहने से काम नहीं चलेगा

पटना - राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने कहा कि केवल भाइयों और बहनों से कहने से काम नहीं चलेगा मोदी जी बताएं कि कहां कितना कालाधन मिला। लालू ने कहा कि मोदी ने रो-रो कर कहा था कि अगर नोटबंदी के बाद 50 दिन में हालात ठीक नहीं होंगे तो जनता उन्हें चौराहे पर सजा दे सकती है। अब 50 दिन पूरे हो गए हैं। आप खुद तय कीजिए चौक-चौराहा। सजा के लिए बिहार में हम चौराहा नहीं चुनना चाहते हैं दिल्ली में ही कोई चौराहा आप चुन लें। बुधवार को नोटबंदी के मुद्दे पर अपने सहयोगी दलों के बिना अकेले महाधरने में बैठे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने मोदी पर जमकर हमला बोला साथ ही कहा कि कोई भ्रम में ना रहे कि लालू अकेले हैं हमें सभी दलों का समर्थन है।

राहुल गाँधी के आरोप का जवाब दे मोदी

अचानक हुए नोटबंदी से देश की महिलाएं किसान मजदूर युवा सब परेशान हो रहे हैं। नोटबंदी के खिलाफ ममता बनर्जी के समर्थन के लिए उन्होंने धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि यह महाधरना महागठबंधन का नहीं बल्कि राजद का है। नीतीश 50 दिनों के बाद नोटबंदी के फैसले का समीक्षा करेंगे गर्दनीबाग में अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए लालू ने कहा कि मोदी बंदर की तरह उछल रहे हैं। कभी इस डाल कभी उस डाल पर, जबकि उन्हें राहुल गांधी के आरोपों का जवाब देना चाहिए। अगर राहुल गांधी ने गलत आरोप लगाया तो मानहानि का मुकदमा दर्ज कराएं। लालू ने कहा कि पैसा लेनदेन मामले में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का भी नाम है। उन्होंने कहा कि यूपी में भाजपा का हाल बिहार जैसा होगा।

कहाँ है पीएम का स्विस बैंक से पैसा लाने का वादा

लालू ने कहा कि पीएम ने वायदा किया था कि स्विस बैंक से पैसा लाएंगे और उनकी बात सुनकर लोग झांसे में आ गए। लालू ने आगे कहा कि हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपये जमा कराने वाले मोदी अभी भी जहां जा रहे हैं वहां इसी तरह बिना सिर-पैर की घोषणा कर रहे हैं। नोटबंदी का फैसला भी पीएम मोदी ने अपने तानाशाही रवैये को दिखाते हुए लिया है। देश की हालत खराब हो रही है। मोदी की वजह से देश आर्थिक गुलामी की ओर जा रहा है। आज राज्य में सारे व्यापारियों दुकानदारों और कारोबारियों का कामकाज बंद पड़ा हुआ है। उन्होंने भाजपा पर नोटबंदी का आरोप लगते हुए कहा की जमीन खरीद रही है। राजद प्रमुख ने कहा कि आजाद भारत में नसबंदी और नोटबंदी दो अनैतिक काम हुए हैं।


Share this story