Python in Drainage ,सूखी नहर में 8 फिट लंबा अजगर निकला ,जंगल मे छोड़ा

Python snake in drainage uttar pradesh news गोण्डा । बरसात के बाद ठंडक के मौसम में आबादी क्षेत्र में सांप के पहुंचने की घटनाएं बढ़ना लाजिमी है। जनपद में आए दिन कहीं ना कहीं से जहरीले जीव जंतुओं के निकलने की सूचनाएं मिला करती है जहरीले जीव जंतुओं के निकलने से क्षेत्र वासियों में दहशत का माहौल बना रहता है और वे परेशान हो जाते हैं ।ऎसे में परेशान और मजबूर लोगों का फायदा समाजसेवा का दावा करने वाले ऎसे ही कुछ व्यक्ति उठाते हैं।

ये तो चुनिंदा उदाहरण है, ऎसे और भी कई मामले हैं जहां सांप पकड़ने की सेवा के नाम पर चांदी कूटने के मामले सामने आए हैं और ये सब सरकारी स्तर पर सुविधा नहीं होने से हो रहा है। जहरीले और जंगली जीव-जंतुओं के संरक्षण की जिम्मेदारी वन विभाग की है। आमजन को इन जानवरों से कोई खतरा न हो। इसके लिए भी वनविभाग अपने स्तर पर प्रयास करता है, आबादी क्षेत्र में सांप पकड़ने के मामले में वन विभाग के हाथ भी बंधे हुए हैं। विभाग के पास प्रशिक्षित व्यक्ति नहीं हैं और न ही उन्हें पकड़ने के लिए कोई उपकरण आदि है।

क्या है पूरा मामला

इटियाथोक बाजार के समीप सूखी पड़ी नहर में अजगर दिखने से लोगों में हड़कंप मच गया। राहगीरों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची कुंआनो वन क्षेत्र की टीम ने अजगर को पकड़कर जंगल में छोड़ दिया। कस्बा व बाजार इटियाथोक से सटे इटियाथोक गांव से होकर निकली सरयू नहर में रविवार दोपहर लोगों को एक अजगर दिखाई पड़ा।जिसे देख राहगीरों के होश उड़ गए। लोगों ने इसकी सूचना कुंआनो रेंज के वाचर स्वामीनाथ को दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची वन कर्मियों की टीम ने अजगर को सुरक्षित पकड़कर जंगल में छोड़ दिया।

इस संबंध में वन दरोगा सुरेश सिंह सूर्यवंशी ने बताया कि अजगर की लंबाई करीब 8 फीट की थी, वहीं उसका वजन 10 किलोग्राम बताया जा रहा है।

जनपद में लगभग एक दर्जन निकल चुके हैं अजगर सांप

जनपद में बारिश मौसम के बाद से इस हांड़ कपाने वाली ठंडक में अब तक अगर देखा जाए तो लगभग अजगर निकलने के आंकड़े की संख्या एक दर्जन की होगी । अभी तक यह जंगल के नजदीक या जहां पर नजदीक में नदियां बह रही हैं उसके किनारे पाए गए हैं लेकिन अब यह मैदानी क्षेत्रों में भी जहां से नहरें निकल रही हैं वहां भी अपना वर्चस्व कायम कर रहे हैं ।

अप्रशिक्षित लोगों से वन विभाग के अधिकारी पकड़वा रहे हैं अजगर

जनपद में जहां अजगर निकलने से ग्रामीणों में दहशत का माहौल फैल जाता है लोग भयभीत हो जाते हैं वहीं इसकी सूचना संबंधित वन विभाग के अधिकारियों को किसी न किसी माध्यम से देते हैं वन विभाग के अधिकारियों द्वारा उक्त अजगर को पकड़वाने के लिए कोई प्रशिक्षित व्यक्ति ना होने से उनके यहां दैनिक मजदूरी पर कार्य करने वाले लोगों को भेजकर पकड़वाया जाता है । जिससे कभी भी कोई बड़ी अप्रिय घटना होने की संभावनाएं बनी रहती है ।

Share this story