ममता बनर्जी ने किया आमिर का समर्थन

कोलकाता-- पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान को अपना समर्थन देते हुए आज कहा कि वह जो महसूस करते हैं उसे कहना उनका लोकतांत्रिक अधिकार है। ममता ने कहा कि किसी को भी यह अधिकार नहीं कि वह किसी को यह देश छोडऩे के लिए कहे क्योंकि यह देश सभी का है। ममता ने कहा, ‘‘किसी को भी किसी से यह देश छोडऩे या पाकिस्तान जाने के लिए कहने का अधिकार नहीं है। हम सभी इस देश भारत के नागरिक हैं।’’ उन्होंने इसके साथ ही हिंदुत्व समूहों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि किसी को भी केवल गोमांस खाने के लिए किसी की हत्या करने का अधिकार नहीं है।

उन्होंने अल्पसंख्यकों की एक रैली को संबोधित करते हुए सवाल किया, ‘‘क्या कोई भी इस देश में उनके खिलाफ कुछ भी नहीं कह सकता। क्या वे इसका निर्णय करेंगे कि हम क्या कहेंगे या नहीं। आमिर ने वह कहा है जो वह महसूस करते हैं और जो उनकी पत्नी ने उनसे कहा, उन्होंने केवल वही कहा। उन्हें यह देश छोडऩे के लिए कहा जा रहा है। आप किसी को भी यह देश छोडऩे के लिए कहने वाले कौन होते हैं? यह देश सभी का है। यह हमारी मातृभूमि है।’’

ममता की यह टिप्पणी आमिर खान की आेर से हाल में की गई उस टिप्पणी की देशव्यापी आलोचना की पृष्ठभूमि में आयी है जिसमें उन्होंने पिछले छह से आठ महीनों में असहिष्णुता की घटनाओं में वृद्धि को लेकर ‘‘खतरा एवं निराशा’’ जताई थी। आमिर ने कुछ दिन पहले इंडियन एक्सप्रेस की आेर से पत्रकारिता के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए रामनाथ गोयनका पुरस्कार कार्यक्रम में कहा था, ‘‘किरण (उनकी पत्नी) और मैंने अपना पूरा जीवन भारत में बिताया है। पहली बार उन्होंने मुझसे कहा, क्या हमें भारत से बाहर चले जाना चाहिए, उन्हें अपने बच्चे के लिए भय है, उन्हें हमारे आसपास माहौल को लेकर भय है कि वह कैसा होगा।’’


Share this story