Top
Aap Ki Khabar

क्यों नहीं होता "आई आर सी टी सी" से रेलवे सीट बुकिंग

क्यों नहीं होता आई आर सी टी सी से रेलवे सीट बुकिंग
X
नई दिल्ली -अगर हाल ही में आपने IRCTC की वेबसाइट देखी होगी तो आपको एहसास हुआ होगा कि साइट पर काफ़ी सुधार हुआ है. अब टिकट बुक करने में उतना समय नहीं लगता जितना पहले लगता था, लेकिन जब बात आती है तत्काल टिकट बुक करने की, तब न जाने क्या हो जाता है. जितनी भी कोशिश कर लो, हम आम लोगों से टिकट बुक ही नहीं होते. इसके पीछे है एक बहुत बड़ी धांधली जिसका खुलासा किया है IBN7 ने. तहकीकात करने पर पता चला है कि आपका इंटरनेट कनेक्शन कितना भी तेज़ क्यों न हो, इन एजेंट्स के ख़ुफ़िया सॉफ्टवेयर के आगे फ़ेल हो जायेगा. IBN7 के स्टिंग ने ये बताया है कि इन एजेंट्स को IRCTC खोलने तक की ज़रुरत नहीं पड़ती. इस सॉफ्टवेयर का नाम भी कमाल का है- 'न्यू चाइना'! इसके द्वारा 30 सेकंड के अंदर टिकट बुक जाते हैं. जी हां, सिर्फ़ 30 सेकंड में. वैसे तो इस सॉफ्टवेयर में आपका लॉगिन डिटेल, CAPTCHA, ट्रेन और पैसेंजर की जानकारी डालनी होती है, लेकिन IRCTC के बदले ये सॉफ्टवेयर चंद सेकंड में टिकट बुक कर देता है. इस कारण एजेंट्स गलत फ़ायदा उठाते हैं. IBN7 द्वारा किये गए स्टिंग में एक एजेंट बता रहा है कि ये ख़ुफ़िया सॉफ्टवेयर हर महीने किराये पर उपलब्ध होते हैं, जिनकी कीमत 3000 से 10,000 रुपये तक होती है. इसीलिए तत्काल टिकट बुक करवाने के लिए एजेंट्स आपसे 500 से 1000 रुपये अधिक लेते हैं. इसका मतलब ये भी है कि इस सॉफ्टवेयर से आप IRCTC के सर्वर्स को एक्सेस कर सकते हो, जिससे ये साफ़ होता है कि ये बहुत बड़ा सुरक्षा का दोष है या फिर कुछ भीतरी लोग हैं जो इस कांड के पीछे हैं. रेलवे मंत्री, सुरेश प्रभु को जब इस धांधली का पता चला तो उन्होंने रेलवे बोर्ड के चेयरमैन के अंतर्गत इसकी जांच के आदेश दे दिए. ज़ाहिर सी बात है कि इस सॉफ्टवेयर के द्वारा सैकड़ों एजेंट्स हैं जो लोगों को ठग रहे हैं. जनता भी खुश है क्योंकि उनका तत्काल में टिकट कन्फर्म हो जाता है, लेकिन सोचिये, पहले तो तत्काल का टिकट महंगा होता है, ऊपर से इन एजेंट्स को आप कन्फर्म टिकट के लिए एक्स्ट्रा रुपये देते हैं. हर दिन लोग इन एजेंट्स के पास तत्काल टिकट बुक करवाने जाते हैं. मान लीजिये अगर एक टिकट पर ये 500 रुपये ऊपर से ले रहे हैं तो हिसाब लगा लीजिये कि महीने में कितना कमा लेते होंगे. सरासर गलत बात है ये. अगर आपको देखना है कि ये एजेंट्स कैसे सॉफ्टवेयर के द्वारा टिकट बुक करते हैं तो IBN7 का ये स्टिंग ऑपरेशन देखिये. इस आर्टिकल को ज़्यादा-से-ज़्यादा लोगों के साथ शेयर करें, जिससे इस कांड के बारे में लोगों को पता चले और एजेंट आपको ठग न पाये. Source tv18 group
Next Story
Share it