aapkikhabar aapkikhabar

ऑस्ट्रेलियाई जोड़े को खाल खींचकर देवी का टैटू हटाने की मिली धमकी!



ऑस्ट्रेलियाई जोड़े को खाल खींचकर देवी का टैटू हटाने की मिली धमकी!

aapkikhabar.com

बेंगलुरु: पैर में हिंदू देवी का टैटू बनवाकर बेंगलुरु में भीड़ के निशाने पर आए ऑस्ट्रेलियाई जोड़े ने फेसबुक पर अपना दर्द बयां किया है। रेस्टोरेंट में भीड़ द्वारा परेशान किए जाने, धमकाए जाने की कहानी इस जोड़े ने फेसबुक पर लिखी है। मैट कीथ नाम के फेसबुक अकाउंट से एक के बाद एक कई पोस्ट शेयर की गई हैं जो इस पूरी घटना की कहानी कहती हैं।

इसी अकाउंट से उस माफीनामे की तस्वीर भी साझा की गई है जिसे अशोक नगर पुलिस स्टेशन में कथित तौर पर इस जोड़े से पुलिस ने ही लिखवाया। दरअसल, बेंगलुरु में एक हिंदू देवी का टैटू ऑस्ट्रेलियाई जोड़े पर मुसीबत बनकर टूटा था। लगभग एक महीने पहले इसे लेकर, शहर के एक रेस्टोरेंट में बैठे ऑस्ट्रेलियाई कपल को लोगों की भीड़ ने परेशान किया।ऑस्ट्रेलियाई जोड़े को खाल खींचकर देवी का टैटू हटाने की दी धमकी! पैर में हिंदू देवी का टैटू होने पर रेस्टोरेंट में भीड़ द्वारा परेशान किए जाने, धमकाए जाने की कहानी ऑस्ट्रेलियाई जोड़े ने फेसबुक पर बयां की है।स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस ग्रुप ने हिंदू देवी येल्लाम्मा (देवी दुर्गा की अवतार) का टैटू पैर में बनवाए हुए ऑस्ट्रेलियाई शख्स को खाल खींचने की धमकी भी दी। इस जोड़े को सिटी पुलिस ने हिरासत में लिया और 'भावनाओं को आहत करने पर' लोगों से माफी मांगने के लिए मजबूर किया।'द हिंदू' की रिपोर्ट के मुताबिक, 'मेलबर्न के मैथ्यू गॉर्डन (21) और उनकी गर्लफ्रेंड ऐमिली कैसियानो (20) का सामना एक ग्रुप से हुआ था।' डरे हुए गॉर्डन ने द हिंदू अखबार को बताया कि एक शख्स मेंरे पास आया और टैटू को लेकर मुझसे विरोध जताने लगा। तुरंत बाद ही, उन्होंने हमें घेर लिया और मेरी खाल खींचकर टैटू हटाने की धमकी दी।

इस ग्रुप ने जल्द ही वहां और भी लोगों को बुला लिया और देखते ही देखते रेस्टोरेंट के बाहर 25 से भी ज्यादा युवक इकट्ठा हो गए। उन्होंने इस जोड़े को जबर्दस्ती रोक लिया। गॉर्डन ने आगे कहा, 'एक पुलिसमैन वहां आया और उसने कहा कि यह भारत है, यहां  कोई भी इस तरह के टैटू को पैर पर नहीं बना सकता। भीड़ के विरोध का शिकार बने इस जोड़े को स्थानीय दोस्त अभिषेक अशोक नगर पुलिस स्टेशन लेकर गए।ऑस्ट्रेलियाई जोड़े को कथित तौर विरोध कर रहे लोगों के सामने पुलिसवाले ने 'डांटा' और 'हिंदू आदर्शों' का पाठ भी पढ़ाया।वहीं, डेप्युटी कमिश्नर ऑफ पुलिस (सेंट्रल) संदीप पाटील ने मामले को मामूली करार दिया। उन्होंने द हिंदू अखबार से कहा कि दोनों ही पक्ष समझौते पर पहुंच गए हैं और अब इसमें कुछ भी चिंता जैसी बात नहीं है।

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के