Top
Aap Ki Khabar

नीतीश कुमार दोबारा शादी के लिए जा रहे हैं: सुशील मोदी

नीतीश कुमार दोबारा शादी के लिए जा रहे हैं: सुशील मोदी
X
पटना--भाजपा ने धर्मनिरपेक्ष महागठबंधन के नीतीश कुमार के रूप में "दूल्हा" होने के दावे पर पलटवार करते हुए कहा कि नीतीश दोबारा शादी के लिए जा रहे हैं और कोई लडकी दूसरी बार शादी करने वाले को वरमाला पहनाना नहीं चाहती।
बक्सर जिले में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा "नीतीश कुमार दोबारा शादी के लिए जा रहे हैं और कोई लडकी दूसरी बार शादी करने वाले को वरमाला पहनाना नहीं चाहती। सुशील ने यह आरोप नीतीश पर नरेंद्र मोदी को लेकर जून 2013 में भाजपा में संबंध विच्छेद करने पर लगाया।

भाजपा के वरिष्ठ नेता द्वारा यह प्रहार महागठबंधन के नेता लालू प्रसाद के भाजपा के अक्सर यह कहने कि महागठबंधन के दूल्हा तो नीतीश कुमार हैं पर राजग में दूल्हा कौन है। उल्लेखनीय है कि जदयू-राजद-कांग्रेस ने नीतीश को अपना मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया है जबकि भाजपा नीत राजग ने अपने मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा करने के बजाय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर चुनाव लडने की घोषणा की थी। भाजपा से गठबंधन तोडकर बिहार को कथित रूप से विकास की पटरी से उतारने के लिए नीतीश कुमार के अहंकार को जिम्मेदार ठहराते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा कि लालू प्रसाद से हाथ मिलाने वाले नीतीश चाहे कितनी भी कोशिश कर लें, भाजपा किसी भी कीमत पर जंगलराज के पुराने दिन नहीं लौटने देगी। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के अहंकार ने बिहार का बंटाधार कर दिया। सुशील मोदी ने कहा, "नीतीश कुमार के अहंकार के कारण भाजपा और जदयू का गठबंधन टूटा, जिसके बाद बिहार के विकास की गाडी पटरी से उतर गई। नीतीश कुमार के अहंकार ने बिहार का बंटाधार कर दिया।
" उन्होंने सोशल नेटवकिंग साइट फेसबुक पर लिखा, "लालू प्रसाद से हाथ मिलाने वाले नीतीश लाख प्रयास कर लें, भाजपा किसी कीमत पर जंगलराज के पुराने दिन नहीं लौटने देगी जिन दिनों को याद करके राज्य की जनता आज भी सहम जाती है।" पूर्व उपमुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि सत्ता की लालसा में नीतीश कुमार भले ही उन पुराने दिनों को भूलकर लालू और कांग्रेस की गोद में चले गए हों लेकिन बिहार की जनता उन दिनों को नहीं भूली है जब फिरौती और अपहरण उद्योग बन गया था। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जंगलराज की सहभागी रही कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी को यह कहने का कोई हक नहीं कि प्रधानमंत्री को बिहार की चिंता नहीं है। 10 वर्ष तक केंद्र में सत्ता में रही कांग्रेस नीत संप्रग सरकार ने बिहार की कभी चिंता नहीं की।
Next Story
Share it