aapkikhabar aapkikhabar

भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन शुरू



भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन शुरू

aapkikhabar.com

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में सोमवार को तीसरा भारत-अफ्रीका फोरम शिखर सम्मेलन (आईएएफएस) शुरू हो गया। इसका आगाज मेजबान देश भारत और अफ्रीकी महाद्वीप के 54 देशों के वरिष्ठ अधिकारियों की एक बैठक के साथ हुआ। हालांकि, भारत और अफ्रीकी देशों की संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए बीफ और पोर्क से बनीं डिशेज को लंच-डिनर के मेन्यू में शामिल नहीं किया गया है।

अफ्रीकी देशों के नेताओं के लिए वेज और नॉन वेज मेन्यू रखा गया है। कॉमर्स मिनिस्टर निर्मला सीतारमण मेहमानों को डिनर देंगी। इस मौके पर नॉन वेज मेन्यू की लिस्ट में फिश (नारियल बटा बेतकी पटुरी) और चिकन चेंत्तिनाद जैसी डिश होंगी। वेजीटेरियन मेन्यू में गुजराती कढ़ी को भी शामिल किया गया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने यहां इंदिरा गांधी नेशनल स्टेडियम स्थित आयोजन स्थल में शिखर सम्मेलन के बाबत तस्वीरें खिंचवाने के बाद टि्वटर पर लिखा, एक पल कैमरों के लिए। वरिष्ठ अधिकारियों की मुलाकात के साथ आईएएफएस का औपचारिक आगाज हो गया है। 

भारतीय अधिकारियों के अनुसार, संभवत: यह पहली बार है, जब सभी 54 अफ्रीकी राष्ट्र इस तरह की एक बैठक के लिए महाद्वीप से बाहर एकत्रित हो रहे हैं। इनमें से 40 देशों का प्रतिनिधित्व उनके राष्ट्राध्यक्षों अथवा सरकार के प्रमुखों द्वारा किए जाने की संभावना है। पिछले दो भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन 2008 और 2011 में क्रमश: नई दिल्ली और अदीस अबाबा में हुए थे, लेकिन इनमें अफ्रीकी देशों के केवल प्रतिनिधियों ने शिरकत की थी। लेकिन इस बार 29 अक्टूबर को अफ्रीकी देशों के नेता इसमें शामिल हो रहे हैं।

इससे संबंधित कार्यक्रम के अनुसार, मंगलवार को विदेश मंत्रियों के बीच एक बैठक होनी है और 29 अक्टूबर की शाम राष्ट्रपति भवन में एक भव्य भोज का आयोजन किया जाएगा, जिसके मेजबान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी होंगे। इस दौरान द्विपक्षीय बैठकें भी होंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिखर सम्मेलन से पूर्व कह चुके हैं कि भारत के लिए अफ्रीका में मानव संसाधन विकास, बुनियादी ढांचा, स्वच्छ ऊर्जा, कृषि, स्वास्थ्य, शिक्षा और कौशल विकास केंद्र बिंदु बने रहेंगे। 

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के