Top
Aap Ki Khabar

अखिलेश की कैबिनेट के नये मंत्रियो के कुछ अनछुए पहलू

अखिलेश की कैबिनेट के नये मंत्रियो के कुछ अनछुए पहलू
X
लखनऊ: यूपी की अखिलेश यादव सरकार के मंत्रिमंडल में व्यापक फेरबदल के तहत शनिवार को 12 नए चेहरों को शामिल किया गया जबकि नौ मंत्रियों को प्रोन्नति दी गई है। इस मंत्रिमंडल विस्तार में आज इन 21 मंत्रियों ने शपथ ली। हालांकि इस मंत्रिमंडल विस्तार में सबसे चौंकाने वाला नाम पंजाब के मोगा से आने वाले अकाली दल नेता बलवंत सिंह रामूवालिया का है। वह राज्य विधानमंडल के किसी भी सदन के सदस्य नहीं हैं। उन्होंने आज ही समाजवादी पार्टी का दामन थामा और साथ ही मंत्री पद भी ले गए।
रामूवालिया को प्रकाश सिंह बादल का पुराना सहयोगी माना जाता है और केंद्र में मुलायम सिंह के रक्षा मंत्री रहने के दौरान वह कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं। इस बार बहराइच के बलहा विधानसभा क्षेत्र से पहली बार विधायक बने बंसीधर बौध भी किसी मिसाल से कम नहीं। पहली बार मंत्री पद का शपथ लेने वाले बौध इतने गरीब हैं कि इनके पास अपनी कोई जमीन नहीं है। भूमिहीन होने के कारण सरकार ने उन्हें पट्टे पर 3.5 एकड जमीन दी हुई है जिस पर वह खुद खेती करते हैं। उनके पास खेती के लिए ट्रेक्टर भी नहीं। वह बैलों के सहारे खुद ही खेत जोतते हैं। बौध के पास अपनी कोई गाडी भी नहीं और शपथग्रहण के लिए वह अपने किसी जानने वाले की कार से लखनऊ आए थे। उनके शपथ ग्रहण के दौरान कुछ नेता उनको लेकर कहते दिखे कि ये ऎसी नस्ल के नेता हैं, जो अब विलुप्त हो चुके हैं। राज्यपाल राम नाईक ने राजभवन में आयोजित शपथग्रहण समारोह में स्वतंत्र प्रभार के राज्यमंत्रियों अरविंद सिंह गोप, कमाल अख्तर तथा विनोद सिंह उर्फ पंडित सिंह को काबीना मंत्री के तौर पर शपथ दिलाई।
इसके अलावा बलवंत सिंह रामूवालिया तथा साहब सिंह सैनी के रूप में नए मंत्रियों ने भी काबीना मंत्री की शपथ ली। मंत्रिमंडल में नए राज्यमंत्री के रूप में शामिल किए गए हेमराज वर्मा कार्यक्रम में उपस्थित न होने के कारण दूसरे मंत्रियों के साथ शपथ नहीं ले सके थे, लेकिन उन्हें थोडी देर बाद शपथ दिलाई गई। इसके अलावा खादी एवं ग्रामोद्योग राज्यमंत्री रियाज अहमद, वन राज्यमंत्री फरीद महफूज किदवाई, पर्यटन राज्यमंत्री मूलचन्द चौहान, प्राविधिक शिक्षा राज्यमंत्री रामसकल गुर्जर, स्वास्थ्य राज्यमंत्री नितिन अग्रवाल तथा ऊर्जा राज्यमंत्री यासिर शाह को प्रोन्नति देकर राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के रूप में शपथ दिलाई गई।

मदन चौहान और सैयदा शादाब फातिमा को स्वतंत्र प्रभार वाले नए राज्यमंत्री के रूप में मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। इन दोनों ने भी शपथ ग्रहण की। इसके अलावा राधेश्याम सिंह, शैलेन्द्र यादव ललई, ओमकार सिंह यादव, तेज नारायण पाण्डेय उर्फ पवन पाण्डेय, सुधीर रावत, लक्ष्मीकांत उर्फ पप्पू निषाद और वंशीधर बौद्ध को राज्यमंत्री पद की शपथ दिलाई गई है। पवन पाण्डेय को छो़डकर बाकी सभी पहली बार राज्यमंत्री बने हैं। पवन पहले भी राज्यमंत्री रह चुके हैं, लेकिन बाद में उन्हें हटा दिया गया था। इससे पहले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आठ मंत्रियों को बर्खास्त कर दिया था, जिनमें पांच कैबिनेट और तीन राज्य मंत्री शामिल हैं। इसके अलावा नौ मंत्रियों से उनके विभाग मुख्यमंत्री ने ले लिए थे।
Next Story
Share it