aapkikhabar aapkikhabar

मिलिए भारत की पहली महिला कमांडर से



मिलिए भारत की पहली महिला कमांडर से

aapkikhabar.com

आतंकवाद आज भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के हर कोने में अपने पैर पसार रहा है। ऐसे में इन आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए देश की एक महिला कमांडो नेशलन सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) में शामिल होकर दहशतगर्दो से लडऩे की तैयारी कर रहीं हैं।
सालों से इंडियन आर्मी के कमांडोज को ट्रेनिंग दे रहीं सीमा राव इंडियन पैरा स्पेशल फोर्सेस, कमांडो विंग, विभिन्न अकादमियों, नेवी मारकोस मरीन कमांडो, एनएसजी, वायु सेना गरुड़, और पुलिस के जवानों को प्रशिक्षण देती हैं।
सीमा राव देश की पहली महिला कमांडो ट्रेनर हैं। वे पिछले 19 सालों से भारतीय सेना के जवानों को ट्रेनिंग दे रही हैं। इस काम में उनके पति दीपक राव भी उनकी मदद करते हैं। सीमा के पति करीब 15 हजार जवानों को ट्रेनिंग दे चुके हैं। सीमा कॉम्बेट शूटिंग इंस्ट्रक्टर हैं, जो गेस्ट ट्रेनर के रूप में जवानों को ट्रेनिंग देती हैं। सीमा प्रोफेसर रमाकांत की बेटी हैं जो की एक फ्रीडम फाइटर थे।

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के