Top
Aap Ki Khabar

नक्सलियों और ईसाई समुदाय में है कनेक्शन : नेता इंद्रेश कुमार

नक्सलियों और ईसाई समुदाय में है कनेक्शन : नेता इंद्रेश कुमार
X
रायपुर-- राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार ने नक्सलियों और ईसाई समुदाय में कनेक्शन बताकर नए विवाद को हवा दी है। इंद्रेश कुमार ने आरोप लगाया और कहा कि चर्च और इसाई समुदाय देश में नक्सलवाद को बढावा देने में सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। उन्होंने माओवादी हमलों को लेकर सवाल उठाते हुए कहा कि इनके हमले ईसाई संस्थाओं पर क्यों नहीं होते! इंद्रेश कुमार छत्तीसगढ की राजधानी रायपुर में फॉरम फॉर अवेयरनेस ऑन नेशनल सिक्यॉरिटी की ओर से रविवार को आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे।
उन्होंने कहा कि ईसाई संस्थाओं और ईसाइयों पर माओवादी हमले क्यों नहीं होते। हालांकि इंद्रेश कुमार ने कहा कि वह चर्च की पवित्रता और ईमानदारी पर सवाल नहीं उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि नक्सलियों ने कभी चर्च या फिर पादरियों को अपना निशाना नहीं बनाया। क्या ऎसा इसलिए है कि वे उनकी सेवा करते हैं या फिर इसकी कोई और वजह है! उन्होंने ईसाई समुदाय से वामपंथी कट्टरपंथ को खत्म करने में सक्रिय भूमिका अदा करने की अपील की।
इंद्रेश ने कहा कि मेरा मकसद चर्च की आलाचेना करना नहीं है। मुझे पता है कि वे भारत के प्रति समर्पित हैं और ईसाई समुदाय के लोग देश सेवा में विश्वास रखते हैं। मैं चाहता हूं कि वे नक्सलवाद को हटाने में सक्रिय योगदान दें। उन्होंने कहा कि विकास हिंसा से नहीं बल्कि शांति और आपसी भाईचारे से ही हासिल हो सकता है। मैंने इसे ध्यान में रखते हुए ही कुछ सवाल उठाए हैं।
बकौल इंद्रेश कुमार, संघ माओवादियों के राजनैतिक मुख्यधारा में लौटने का पक्षधर है। माओवादियों को अपना आत्म विश्लेषण करना चाहिए। उन्हें सोचना चाहिए कि तीन दशक से भी लंबे समय से चल रहे सशस्त्र विद्रोह से उन्हें क्या हासिल हुआ! इंद्रेश कुमार ने कार्यक्रम से इतर पत्रकारों से बातचीत में कहा, छत्तीसगढ उच्चा स्तर पर नक्सलवाद से जूझ रहा है, लेकिन यहां नक्सलियों ने कभी चर्च या पादरी को निशाना नहीं बनाया, क्योंकि वह उनकी मदद करते हैं या फिर इसके पीछे कोई और वजह है।
Next Story
Share it