aapkikhabar aapkikhabar

जफराबाद थाना क्षेत्र के नेवादा गांव में एक मालिक ने अपने पालतू कुत्ते की तेरहवीं की



जफराबाद थाना क्षेत्र के नेवादा गांव में एक मालिक ने अपने पालतू कुत्ते की तेरहवीं की

aapkikhabar.com

जौनपुर-- कुत्ते को इंसान का सबसे वफदार दोस्त माना जाता है। कुत्ते को न केवल जानवर समझकर पाला जाता है बल्कि उसे परिवार का सदस्य रूप में मानते है। जब किसी पालतू कुत्ते की मौत हो जाती है पूरा परिवार शोक में डूब जाता है। एक ऎसा ही मामला यूपी के जौनपुर जिले से सामने आया है।
दरअसल, जौनपुर के जफराबाद थाना क्षेत्र के नेवादा गांव में एक मालिक ने अपने पालतू कुत्ते की तेरहवीं की है। इस तेरहवीं में गांव और आस-पास के लोग ने शामिल होकर ब्रहभोज किया। मालिक द्वारा कुत्ते का अंतिम संस्कार करना पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना रहा है। 
मालिक ने बताया कि इस कुत्ते को मैंने 17 वर्ष पहले पाला था। वह बचपन से ही मेरे बेटे की तरह हमारे परिवार के सदस्य जैसा ही था। हम लोग घर पर हो या बाहर लेकिन मेरा टाइगर पूरे घर की रखवाली करता था। 

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के