Top
Aap Ki Khabar

पुतिन ने तुर्की पर तेल की तस्करी का आरोप लगाया

पुतिन ने तुर्की पर तेल की तस्करी का आरोप लगाया
X
इस्तांबुल: रूसी लडाकू विमान गिराए जाने के मुद्दे पर तुर्की ने रूस को चेतावनी दी है। तुर्की के राष्ट्रपति रजप तायीप एदोगान ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से कहा है कि वे आग से न खेलें। उधर रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने अरोप लगाया है कि वह आईएसआईएस की मदद से सीरिया होकर तुर्की में तेल की तस्करी करवा रहा है। एदोगान ने कहा कि वे इस मुद्दे का पेरिस में हो रहे पर्यावरण सम्मेलन के दौरान पुतिन से आमने-सामने बैठकर हल निकालेंगे।

वहीं, सूत्रों की मानें तो राष्ट्रपति पुतिन ने मिलने से इनकार कर दिया है। उधर, तुर्की ने भी माफी मांगने से मना कर दिया है। रूस के विदेश मंत्री के मुताबिक, रूस ने तुर्की के साथ वीजा मुक्त व्यवस्था को भी रद्द करने का फैसला किया है। तुर्की का कहना है कि रूसी जेट उसके हवाई क्षेत्र में था जब उसे निशाना बनाया गया, लेकिन रूस इस बात पर अडा है कि जेट सीरियाई हवाई क्षेत्र में था।

राष्ट्रपति एर्दोगान ने कहा, मैं पेरिस में राष्ट्रपति पुतिन से आमने-सामने मिलना चाहूंगा। मैं इस मसले को एक मुनासिब मोड पर लाना चाहता हूं। हम इस बात से परेशान हैं कि यह मसला इतना बढ गया हालांकि एर्दोगान यह भी कहा कि तुर्की रूस से अपने रिश्तों को बिगाडना नहीं चाहता। बहरहाल, रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने चेतावनी दी कि इस घटना से तुर्की के हितों पर गंभीर असर पड सकता है। लावरोव ने कहा कि रूस एक जनवरी से तुर्की के साथ वीजा मुक्त यात्रा की व्यवस्था को रद्द कर रहा है।

तुर्की और रूस के बीच मजबूत आर्थिक संबंध हैं। रूस तुर्की का दूसरा सबसे ब़डा व्यापारिक साझेदार है जबकि पिछले साल तीस लाख से ज्यादा रूसी पर्यटकों ने तुर्की की यात्रा की। रूस के प्रधानमंत्री दिमित्रि मेदवेदेव ने भी चेतावनी दी कि इस घटना से तुर्की के खाद्य आयात और संयुक्त निवेश कार्यक्रमों पर भी बुरा असर पड सकता है।
Next Story
Share it