Top
Aap Ki Khabar

अहिल्या बाई की नगरी इंदौर को अब यूपी के टिप्स से स्मार्ट बनाया जाएगा

अहिल्या बाई की नगरी इंदौर को अब यूपी के टिप्स से स्मार्ट बनाया जाएगा
X
गोरखपुर. देवी अहिल्या बाई की नगरी इंदौर को अब यूपी के टिप्स से स्मार्ट बनाया जाएगा। इसकी तैयारियां शुरू हैं। मध्य प्रदेश की यह क्लीन सिटी कुशीनगर के डॉ़ पुनीत द्विवेदी की अगुवाई में स्मार्ट बनेगा। प्रेस्टिज इंस्टीट्यूट इंदौर के डॉ़ द्विवेदी अपनी 25 सदस्यीय 'आगाज इन्टरप्रेन्योरशिप सेल' के साथ इसे अंजाम तक पहुंचायेंगे। इसमें शहर के अन्य स्कूलों और कालेजों के छात्रों का सहयोग भी लेने का प्रयास जारी है।केंद्र सरकार ने देश के चुनिन्द महानगरों और शहरों को स्मार्ट सिटी बनाने की घोषणा की है। इसमें यूपी के समेत देश के तकरीबन सभी प्रदेशों के शहरों का चुनाव हुआ है।
ऐसे ही मध्य प्रदेश की क्लीन सिटी इंदौर को भी चुना गया है।देवी अहिल्या बाई की नगरी के नाम से प्रसिद्घ इस शहर में ढेर सारे परंपरागत, सामाजिक और सांस्कृतिक धरोहर भी है। इन्हें पर्यटन के रूप में बढ़ावा देते हुए इंदौर को स्मार्ट बनाना है। आधुनिक तकनीकों के साथ पुरानी व्यवस्थाओं को बनाए रखने की चुनौती के साथ अब डॉ़ पुनीत द्विवेदी की अगुवाई में इंदौर स्मार्ट बनने की ओर अग्रसर है। इसे स्मार्ट बनाने की जिम्मेदारी यूपी के कुशीनगर जिले के चकिया दुबौली गांव निवासी डॉ़ पुनीत के कंधों पर है। पुनीत मेयर डॉ़ दिनेश शर्मा के शिष्य हैं।
-ऐसे कर रहे हैं काम डॉ़ द्विवेद्वी की टीम पहले चरण में लोगों का सुझाव मांग रहे हैं। पेट्रोलपंप, स्कूल, कॉलेज और सार्वजनिक स्थलों पर हार्डिंग्स-बैनर लगाकर लोगों का सुझाव मांग रहे हैं। व्यक्तिगत संपर्क, टेलिफोनिक सुझाव और अन्य विकल्पों के माध्यम से आम लोगों तक पहुंचकर उनकी राय लेने की कोशिश जारी है।
-सांस्कृतिक धरोहरों के साथ बनेगा स्मार्ट इंदौर
होल्कर साम्राज्य की देवी अहिल्या बाई होल्कर की नगरी इंदौर के सांस्कृतिक रूप को बनाए रखने की हर संभव कोशिश होगी। कान्ह नदी के किनारे बनी छतरियों के अस्तित्व को बचाते हुए र्प्यटकों का ध्यान इस ओर खींचने के लिए हर उपाय होंगे। पर्यटकों को आकृष्ट करने की दृष्टि से भी नगर को सुसज्जित करने का प्रयास होगा।

Next Story
Share it