Top
Aap Ki Khabar

एक भारतीय जिसने "फेसबुक "को बनाया और "सुरक्षित "

एक भारतीय जिसने फेसबुक को बनाया और सुरक्षित
X
नई दिल्ली -भारतीय खोज भले ही करने में पीछे हो लेकिन डुप्लीकेशी करने और दूसरों में कमियां निकलने में सबसे अव्वल और कभी कभी यह किसी भले उद्देश्य से करने पर लोगों का भला ही होता है और बधाई के साथ पैसे मिलते हैं अलग यही हुआ राजस्थान के रहने वाले एक युवक आनंद प्रकाश के आगे सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक को भी नतमस्‍तक होना पड़ा। आनंद ने फेसबुक के लॉग इन सिस्टम में एक बग की खोज की, जिसके बाद कंपनी ने उसे 15 हजार डॉलर (10 लाख रुपए) का इनाम दिया है। आनंद प्रकाश ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, "फेसबुक ने उनके द्वारा खोजे गए बग को पहचाना और उसे ठीक किया।" भादरा, राजस्थान के रहने वाले आनंद प्रकाश वेल्लूर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से कम्प्यूटर साइंस में बीटेक हैं, जो अभी ई-कॉमर्स कंपनी में बतौर सिक्योरिटी एक्सपर्ट काम करते हैं। प्रकाश ने फेसबुक की सिक्योरिटी टीम को 22 फरवरी को इससे संबंधी रिपोर्ट भेजी थी। फेसबुक सहित टेक्नोलॉजी से जुड़ीं दुनिया की तमाम बड़ी कंपनियां बग ढूंढने पर इनाम देने जैसा प्रोग्राम चलाती रहती हैं। इसका मकसद यह जानना होता है कि उनके सिस्टम में कहां खामियां हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, प्रकाश ने कई मौकों पर इस तरह के बग को ढूंढकर 1 करोड़ रुपए तक कमाए हैं। बग तलाश करने और उसे रिपोर्ट करने के लिए आनंद को फेसबुक ने 4th रैंक दिया है। आपको बता दे कि यह बग इतना खतरनाक है जिसकी मदद से कोई भी हैकर किसी यूजर के मैसेज, फोटो व क्रेडिट या डेबिट कार्ड की जानकारी हासिल कर इसका मिसयूस कर सकता था। फेसबुक शुक्रगुजार है इस भारतीय का जिसने फेसबुक को लोगों के लिए और सेफ बनाया जिससे उनके डाटा सुरक्षित रह सकें । सोर्स 24
Next Story
Share it