Top
Aap Ki Khabar

महिलाएं न समझें अपने को अकेला रेल यात्रा के दौरान

महिलाएं न समझें अपने को अकेला रेल यात्रा के दौरान
X
दिल्ली-रेलवे ने ट्रेन में महिला इतरी अपने को ज्यादा सुरक्षित रख सकें इसके लिए रेलवे ने एक नायाब तरीका निकाला है ट्रेन में अकेले सफर करने और सीट बदलने की इच्छा रखने वाली महिला यात्री अब एक वरिष्ठ महिला रेलवे की एक वरिष्ठ महिला अधिकारी की मदद से ऐसी सेवाओं का लाभ ले सकेंगी। बताया गया है कि कई महिलाओं से ऐसा अनुरोध मिलने के बाद कि वो पुरूषों के बीच आवंटित की सीट पर असुरक्षित या असहज महसूस कर रही हैं, तो उनकी सीट परुवर्तित की जा साकती है। हालांकि रेलवे ने कहा है कि महिलाओं को यह सुनिश्चित करना पड़ेगा कि शिकायत असली है और परिस्थिति वास्तव में खराब है। उन्हें अपना नाम और मोबाइल नंबर भी बताना होगा। रेलवे ने यह भी कहा है कि इन सुविधाओं के अलावा कोई भी महिला बचाव एवं अपनी सुरक्षा के लिए 24 घंटे काम करने वाली विशेष सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर 182 पर भी संपर्क कर सकती हैं। रेलवे ने अपनी गुणवत्ता में जहाँ व्यापक सुधार किया है लोगों की जरुरत पूरी की है साथ ही वही सुरक्षा पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है । ट्विटर पर रेलवे मंत्रालय पूरी तरह से सक्रीय है और जिन भी लोगों की शिकायतें प्राप्त होती हैं उन्हें उस विभाग तक पंहुचा कर तुरंत हल करने के निर्देश दिए जा रहे है । सोर्स वेब
Next Story
Share it