Top
Aap Ki Khabar

महाराष्ट्र सूखे की मदद को बढे हाथ ,केजरीवाल ने भी भेजा पानी

महाराष्ट्र सूखे की मदद को बढे हाथ ,केजरीवाल ने भी भेजा पानी
X
मुंबई/नई दिल्ली. महाराष्ट्र में सूखे से हालात गंभीर होते जा रहे हैं। इस बीच, लातूर के लिए पानी लेकर पहली ट्रेन सोमवार देर रात पहुंची। ट्रेन से कुल पांच लाख लीटर पानी भेजा गया है, जिसे साफ कर लोगों तक जल्द पहुंचाया जाएगा। फिलहाल लातूर में धारा 144 लागू है। महाराष्ट्र सरकार ने इसकी जानकारी दी। वहीं, केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा कि दस राज्यों में हालात खराब हैं। लोगों को पीने के लिए पानी नहीं मिल रहा है। वहीं, अरविंद केजरीवाल ने कहा, ''हम लातूर को पानी देंगे। हमें मदद करनी चाहिए। दिल्ली वालों को लातूर भेजने के लिए पानी बचाना चाहिए '- महाराष्ट्र में साल 2016 में हर महीने करीब 90 किसानों ने सुसाइड किया।
- कई तालाबों और नदियों में पानी 4% से भी कम बचा है।- लगातार चौथी बार महाराष्ट्र सूखे का सामना कर रहा है।- सबसे ज्यादा असर औरंगाबाद, लातूर और विदर्भ के जिलों में देखने को मिल रहा है।कहां-कहां हैं सूखे जैसे हालात?- महाराष्ट्र के मराठवाड़ा में नदी और डैम पूरी तरह से सूख चुके हैं।
- आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, राजस्थान, गुजरात और छत्तीसगढ़ जैसे राज्य भी बेहाल।
- यूपी और मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड में बंदूकों के सहारे पानी की निगरानी की जा रही है।
आज कैसे लातूर को मिलेगा पानी?
- पानी लेकर एक मालगाड़ी आज लातूर पहुंचने वाली है। महाराष्ट्र में सूखे की मार सबसे ज्यादा मराठवाड़ा क्षेत्र में पड़ी है।- सीएम देवेंद्र फड़णवीस ने रविवार को कहा था कि सरकार और रेल मिनिस्ट्री पानी की समस्या हल करने के लिए साथ मिलकर काम करेंगे।- रेल मिनिस्टर सुरेश प्रभु ने भी कहा था कि 50 वैगन साफ करवाकर मिरज भेज दिए गए हैं।- 8 अप्रैल को पानी के 50 वैगन लेकर एक गुड्स ट्रेन राजस्थान के कोटा से पुणे के मिरज के लिए रवाना हुई थी।- ऐसी ही दूसरी ट्रेन 15 तारीख को रवाना होगी। एक वैगन में 54 हजार लीटर पानी आता है।
अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली वासियों से की पानी बचाने की अपील
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शहर के लोगों से अपील की है कि वे महाराष्ट्र के सूखा प्रभावित लातूर शहर के लिए पानी बचाएं। अब तक का सबसे भयंकर सूखा झेल रहे मराठवाड़ा क्षेत्र में करीब पांच लाख की आबादी वाला लातूर जिला इन दिनों पानी की भारी किल्लत से जूझ रहा है।


सीएम केजरीवाल ने एक ट्वीट में कहा, 'लातूर में गंभीर जल संकट है। हम सबको मदद करनी चाहिए। क्या दिल्लीवासी प्रतिदिन कुछ पानी बचाने और इसे लातूर के लोगों को भेजने के लिए तैयार हैं?'
वहीं पानी से भरे 10 वैगन लेकर रवाना हुई 'वाटर ट्रेन' अभी तक लातूर नहीं पहुंची है। यह ट्रेन लातूर से 300 किलोमीटर दूर स्थित मिरज से रवाना हुई है, लेकिन करीब डेढ़ घंटे के सफर के बाद यह सोलापुर जिले के संगोला स्टेशन पर रुकी हुई है। सूत्रों ने बताया कि जिस जगह पानी जमा करना है, वह अभी तैयार नहीं है।
सौर्स db ग्रुप और ndtv

Next Story
Share it