aapkikhabar aapkikhabar

हज़ारीबाग़ में हॉस्पिटल से ज्यादा" झाड़ फूँक" पर भरोसा



हज़ारीबाग़ में हॉस्पिटल से ज्यादा

aapkikhabar.com


हजारीबाग-21 वी सदी के भारत में झाड़ फूंक अभी भी जिन्दा है ,और यह हालत ग्रामीण इलाको से निकलकर प्रमंडलीय मुख्यालय में दस्तक दे रहा है ,जी हाँ मामला हजारीबाग के सदर अस्पताल का है । बता दे की बरही निवासी विनोद यादव के पुत्र
पियूष को सांप ने काट दिया था जिसे अस्पताल में उपचार के लिए लाया गया जंहा उसे सांप काटे की दवा दी गयी उसी बीच परिवार वालो ने एक ओझा गुनी को बुलवा दिया । वंही ओझा ने अस्पताल कैंपस में ही झाड फूक करना शुरू कर दिया ,जब आपकी खबर के संवादाता ने अस्पताल प्रबंधन से पूछा के यह इजाजत किसने दी की मरीज़ को बेड से उठाकर अस्पताल के लॉन मे ओझाओ की एक फौज झाड़ फूक करे । तो भड़क उठे कहा हम तो 21वी सदी में रहते है ,तो फिर यह नौटंकी क्यों इसपर अपने गार्ड को डांटने लगे फिर लांन में एक डाक्टर को भेजकर ओझा गुनी लोगो की भीड़ को हटाया गया ,लेकिन दो घंटे तक यह ड्रामा अस्पताल कैम्पस में पुलिसकर्मी जवानों की देख रख में चलता रहा।
फलक शमीम

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के