Top
Aap Ki Khabar

दंगों का "मंत्र "देने आ रहे हैं "अमित" शाह कानपुर

दंगों का मंत्र देने आ रहे हैं अमित शाह कानपुर
X
कानपुर -भाजपा अध्यक्ष द्वारा बूथ प्रमुखों के लिए किया जा रहा सम्मेलन विपक्षियों को रास नहीं आ रहा है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि शाह जीत का नहीं दंगों का मंत्र देने आ रहे हैं। तो वहीं सपा ने भी खीझ निकालते हुए कहा कि भाजपा का हो रहा यह सम्मेलन जरूर प्रदेश में कुछ गड़बड़ करेगा।सपा का कहना है कि इनकी नीति ही रही है फूट डालो और राज करो। दरअसल शनिवार को भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह आगामी विधान सभा चुनाव को देखते हुए कानपुर-बुन्देलखण्ड के लगभग 19 हजार बूथ प्रमुखों से रूबरू होने जा रहे हैं।शाह की सक्रियता को देखते हुए कांग्रेस सहित सपा व बसपा में भी बेचैनी बढ़ गई है।हो भी क्यों न सभी पार्टियां जानती है कि शाह की कमान से निकला राजनीतिक तीर जरूर अन्य पार्टियों को घायल करता है।कांग्रेस के पूर्व मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल ने कहा कि यह सम्मेलन दंगों को सुनियोजित करने के लिए किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि भाजपा विकास का झूठा प्रचार कर रही है। लेकिन उनका मकसद साफ रहता है कि दंगा कराकर सत्ता हासिल करो।विनोद चतुर्वेदी ने कहा कि जीत का नहीं दंगों का मंत्र सम्मेलन में दिया जाएगा। सपा के जिलाध्यक्ष महेन्द्र सिंह यादव ने कहा कि भाजपा की सदैव तोड़ने की नीति रही है। लेकिन जब से मोदी शाह की जोडी का भाजपा में वर्चस्व हो गया तब से उनकी नीति और इजाफा हुआ है। हालांकि उन्होंने कहा कि अब उनकी यह नीति प्रदेश की जनता जान चुकी और अब उनके झांसे में नहीं आने वाली है।बसपा के प्रशान्त दोहरे ने कहा कि भाजपा कुछ भी कर ले बहन जी को सत्ता में आने से नहीं रोक सकती। भाजपा जिलाध्यक्ष उत्तर सुरेन्द्र मैथानी ने कहा कि केन्द्र सरकार के दो सालों में हुए कार्यों को देखते हुए प्रदेश की जनता पार्टी से लगातार जुड रही है। जिससे यह लोग घबरा गए है और अनाप शनाप बयान दे रहें है।पार्टी विकास के मुद्दे पर ही केन्द्र की सत्ता में आई है और आगे प्रदेश में भी आएगी।
Next Story
Share it