aapkikhabar aapkikhabar

"फल सब्जी "बेचने वाले के बेटे का हुआ इंटरनेशनल "बॉक्सिंग" चैम्पियनशिप में चयन ,अब इटली जाने के पैसे नहीं



aapkikhabar.com



इंटरनेशनल प्रतियोगिता मे शामिल होने के लिये जिला प्रशाशन से मदद की गुहार

हजारीबाग -एक ओर जहाँ राज्य सरकार द्वार युवाओं के विकास के लिये नित्य कई योजनाएँ लाई जा रही है वहीं दूसरी तरफ़ राज्य की कई प्रतिभायें आर्थिक अभाव मे कुंठित हो रही है । इसका उदाहरण हजारीबाग उपायुक्त कार्यालय मे देखने को मिला ,यहाँ एक खिलाड़ी मोहित कुमार अपनी फरियाद लेकर पहुँचा । बता दे की मोहित का इटली मे होने वाली इंटरनेशनल किक बॉक्सिंग चैम्पियनशिप के लिये चयन हो गया है, लेकिन उसके पास वहाँ तक पहुँचने के लिये आवश्यक पैसे नहीं है जिस कारण हजारीबाग उपायुक्त से गुहार लगायी तो उन्होंने कहा की इस तरह की सहायता के लिये कोई फंड नहीं है। बताते चले की मोहित के पिता साग -सब्जी बेचकर अपने परिवार का भरण -पोषण करते हैं । ऐसे मे बेटे को प्रतियोगिता मे भाग लेने के लिये इटली भेजना उनके बस की बात नहीं है ।जानकारी के लिए बता दे की मोहित ने झारखण्ड के रांची मे रहकर प्रशिक्षक सुदामा वर्मा से प्रशिक्षण प्राप्त किया है । इस दौरान दिल्ली मे आयोजित इंडिया कैम्प मे बेहतर प्रदर्शन करने पर झारखंड से मात्र दो खिलाड़ियों का चयन इटली के ऐन्ड्रिया शहर मे 14-19 नवम्बर को होने वाली प्रतियोगिता के लिये किया गया है । इनमें से पैसे के अभाव मे धुर्वा रांची के खिलाड़ी अंशु कुमार ने पहले हीं प्रतियोगिता मे जाने से इनकार कर दिया है । वहीं मोहित ने जिला प्रतिनिधि के मदद के आस मे प्रतियोगिता मे भाग लेने के लिये ठानी है लेकिन विभागों व जनप्रतिनिधियों द्वारा मदद नहीं मिलने पर वह भी मायूस हो चला है ।
फलक शमीम

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के