Top
Aap Ki Khabar

बुलंद शहर मामले में हरकत में आई पुलिस 3 को पकड़ा नाकाम अधिकारी हुए सस्पेंड

बुलंद शहर मामले में हरकत में आई पुलिस 3 को पकड़ा नाकाम अधिकारी हुए सस्पेंड
X
बुलंदशहर -उत्तर प्रदेश की पुलुस पर नाकामी का धब्बा लगाने वाले गैर जिम्मेदार एस एस पी समेत ए यस पी और सर्किल आफिसर समेत इन्स्पेक्टर को सरकार ने सस्पेंड कर दिया है मीडिया में सुर्खिया के बाद हरकत में आई पुलिस ने नेशनल हाईवे-91 पर कोतवाली देहात क्षेत्र में कार सवार मां-बेटी को खेत में खींचकर गैंगरेप और लूटपाट की घटना का डीजीपी जाविद अहमद और प्रमुख सचिव गृह ने रविवार को खुलासा किया। घटना में शामिल तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दो अन्य हिरासत में हैं। तीनों आरोपियों की पहचान पीड़ितों द्वारा किए जाने का दावा किया गया है। डीजीपी और प्रमुख सचिव गृह ने बताया कि तीनों बावरिया जाति से ताल्लुक रखते हैं। तीनों आरोपियों से गहन पूछताछ चल रही है। 29 जुलाई की रात नोएडा से शाहजहांपुर जा रहे कार सवार परिवार के छह लोगों को नेशनल हाईवे-91 पर कोतवाली देहात क्षेत्र में बदमाशों ने कार के नीचे एक्सल डालकर रुकवा लिया। बदमाश कार समेत पूरे परिवार को हाईवे से कुछ दूरी पर खेत में ले गए। वहां परिवार के तीन पुरुषों और एक महिला को बंधक बनाकर खेत में डाल दिया गया, जबकि 15 वर्षीय लड़की और उसकी मां से गैंगरेप किया गया। रविवार दोपहर को डीजीपी जाविद अहमद और प्रमुख सचिव गृह देवाशीष पंडा हेलीकॉप्टर से बुलंदशहर पहुंचे। यहां उन्होंने पहले घटनास्थल का निरीक्षण किया और उसके बाद पुलिस लाइन में पत्रकार वार्ता में घटना का खुलासा किया। डीजीपी जाविद अहमद ने बताया कि हाईवे पर मां-बेटी से दरिंदगी और लूटपाट की घटना बेहद भयावह है। इस घटना में पुलिस की टीमों ने कई स्थानों पर ताबड़तोड़ दबिशें दीं। पुलिस टीम ने तीन लोगों को वैर स्टेशन से पकड़ लिया है। तीनों आरोपी कहीं भागने की फिराक में थे। डीजीपी ने बताया कि तीनों आरोपियों की शिनाख्त बबलू पुत्र रूपचंद निवासी फरीदाबाद, नरेश उर्फ ठाकुर पुत्र अमर सिंह निवासी भटिंडा पंजाब और रईस निवासी ग्राम सुतारी थाना कोतवाली देहात के रूप में हुई है। इन तीनों को पीड़ित महिला और लड़की ने भी पहचान लिया है। तीनों आरोपियों से गहन पूछताछ की जा रही है। इस दौरान डीआईजी लक्ष्मी सिंह, डीएम आन्जनेय कुमार सिंह, एसएसपी वैभव कृष्ण मौजूद रहे। आई पी एस अधिकारी ने कहा सस्पेंशन नाकाफी अमिताभ ठाकुर ने सस्पेंशन मामले पर कहा कि अधिकारीयों को सस्पेंड करना कोई दंड नहीं है।
Next Story
Share it