Top
Aap Ki Khabar

खाली करना पड़ेगा अब पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकार बंगला

खाली करना पड़ेगा अब पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकार बंगला
X
नई दिल्ली -पद पर न रहने के बाद भी सरकारी बंगले का लाभ ले रहे पूर्व मुख्यमंत्रियों को अब बंगले खाली करने होंगे कोर्ट ने UP के 6 पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगलों को लेकर आज बड़ा झटका दिया। अब इन पूर्व मुख्यमंत्रियों को दो महीने में लखनऊ के अपने सरकारी बंगलों को खाली करना होगा । इस आदेश के बाद अब राजनाथ सिंह, एनडी तिवारी, मायावती, मुलायम सिंह यादव, रामनरेश यादव और कल्याण सिंह को अपने सरकारी बंगले को खाली करना होगा। सुप्रीम कोर्ट ने UP के पूर्व मुख्यमंत्रियों को लेकर सुनाया फैसला... - जस्टिस अनिल आर दवे की अगुवाई वाली 3 जजों की बेंच ने आज ये फैसला सुनाया। - बेंच में जस्टिस यूयू ललित और जस्टिस नागेश्वर राव भी थे। - सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश का असर यूपी के 6 पूर्व मुख्यमंत्रियों पर पड़ेगा। - जिन 6 पूर्व सीएम को सरकारी बंगला मिला हुआ है, उनमें - नारायण दत्त तिवारी, कल्याण सिंह, मायावती, मुलायम सिंह यादव, राजनाथ सिंह और रामनरेश यादव शामिल हैं। - इन सभी को लखनऊ के पॉश इलाके मॉल रोड और विक्रमादित्य मार्ग पर बंगले अलॉट हुए थे। - सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर के बाद इस सभी को 2 महीने में सरकारी बंगला खाली करना होगा। 2004 में NGO 'लोक प्रहरी' ने लगाई थी पिटीशन - यूपी के एक NGO लोक प्रहरी ने 2004 में यह पिटीशन दायर की थी। - पिटीशन में पूर्व मुख्यमंत्रियों और अन्य नॉन एलिजिबल ऑर्गनाइजेशंस को सरकारी बंगले के अलॉटमेंट पर सवाल खड़े किए थे। - लोक प्रहरी ने आरोप लगाया था कि इलाहाबाद हाईकोर्ट के ऑर्डर के बावजूद यूपी सरकार ने इन्हें बंगले दिए थे। - पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगले देने के लिए एक्स-चीफ मिनिस्टर्स रेसिडेंस अलॉटमेंट रूल्स, 1997 बनाया गया था। - NGO ने 1997 में बने इस नियम को अवैध और असंवैधानिक बताया था। - पिटीशन में कहा गया था कि सरकारी बंगलों पर गलत कब्जा है, लिहाजा ये यूपी पब्लिक प्रिमाइसेस एक्ट के खिलाफ है। - पिटीशनर ने ये भी कहा था कि मुख्यमंत्रियों के पोस्ट से हटने के बाद सरकारी बंगले को रखने का प्रोविजन गलत है। सरकारी बंगले के विवाद में जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला भी फंस चुके हैं। उमर अब्दुल्ला की पूर्व पत्नी पायल ने दिल्ली के अकबर रोड स्थित बंगले को खाली करने से मना कर दिया था। ये बंगला उमर अब्दुल्ला को मुख्यमंत्री बनने के दौरान आवंटित किया गया था। Courtesy 24
Next Story
Share it