Top
Aap Ki Khabar

दाउद का साथी टाईगर हनीफ आ सकता है भारत के गिरफ्त में सूरत बम काण्ड का है आरोपी

दाउद का साथी टाईगर हनीफ आ सकता है भारत के गिरफ्त में सूरत बम काण्ड का है आरोपी
X
नई दिल्ली - सूरत में 1993 में हुए दो बम धमाकों के वांछित आतंकी टाइगर हनीफ को ब्रिटेन सरकार, भारत के सुपुर्द कर सकती है। ब्रिटेन के नव नियुक्त गृह मंत्री अंबर रड ने कहा है कि वो भारत सरकार के आग्रह पर विचार कर रहे हैं।
आतंकी सरगना दाउद इब्राहीम के सहयोगी 55 वर्षीय हनीफ का मैनचेस्टर में एक दुकान चलाता है।- भारत के आग्रह पर स्कॉटलैंड यार्ड ने उसे गिरफ्तार भी कर लिया।- उसके खिलाफ भारतीय अधिकारियों ने फरवरी 2010 में एक प्रत्यर्पण वारंट जारी किया था। टाइगर हनीफ ब्रिटिश हाई कोर्ट में अप्रैल 2013 में अपनी अपील हार गया ।- जिसके बाद यह मामला ब्रिटेन के तत्कालीन गृह मंत्री और अब प्रधानमंत्री टेरेसा मे को सौंप दिया गया था- ब्रिटिश गृह विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि इस मामले में गृह मंत्रालय को और अधिक जानकारी दी गई है और वे इस पर सावधानीपूवर्क विचार कर रहे हैं। टाइगर हनीफ का पूरा नाम मोहम्मद उमरजी पटेल है। वह 1996 में भारत से फरार हो कर अवैध रूप से ब्रिटेन पहुंचा था।
अंडरवल्र्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को बडा एक झटका

गुजरात के सूरत में हुए इस बम विस्फोट में एक आठ साल की ल़डकी की मौत हो गई थी और 12 अन्य लोग घायल हो गए थे। टाइगर हनीफ तस्करी का पूरा नेटवर्क गुजरात में चलाता है और उसके बारे में यह भी कहा जाता है कि उसके लश्कर-ए-तैयबा से संबंध हैं।

उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। 49 वर्षीय हनीफ का प्रत्यर्पण अब जाकर मुमकिन हो पाया है। मोहम्मद टाइगर हनीफ उर्फ उमरजी पटेल को लंदन की स्काटलैंड पुलिस ने 16 फरवरी को गिरफ्तार किया था। तबसे भारत सरकार उसके प्रत्यर्पण की कोशिश कर रही थी।




Next Story
Share it