Top
Aap Ki Khabar

जोर से बोलिये मोदी जी को चीन में पता चले की भाजपाई इकट्ठे हुए हैं

जोर से बोलिये मोदी जी को चीन में पता चले की भाजपाई इकट्ठे हुए हैं
X
लखनऊ-राम मनोहर लोहिया यूनिवर्सिटी के आंबेडकर सभागार में आयोजित सम्मलेन में बोलते हुए केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि पीएम मोदी ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में तिरंगा फहराने की घोषणा कर दी है। लोकसभा चुनाव के समय अगर विधानसभा चुनाव हुए होते तो भाजपा की सरकार बनती। हर बूथ पर 50 स्मार्टफोन वाले नवजवान की टीम तैयार करे। यह संकल्प ले इकाई न दहाई केवल दो तिहाई। सपा, बसपा मुक्त प्रदेश बनाये अमित शाह अमित शाह माइक पकड़ते ही कहा कि जरा सारे नीले कपडे वाले किनारे हो जाए और सिक्योरिटी भी किनारे हो जाये। बता दे की यह नीले कपडे वाले भाजपा के मीडिया सेल के कुछ कार्यकर्त्ता थे जो मंच के बिलकुल सामने खड़े सिक्योरिटी के साथ खड़े थे। लोगो से कहा जोर से बोलिये मोदी जी चीन पहुचने वाले है उन्हें भी पता चले की लखनऊ में भाजपाई इकठ्ठा हुए है। आज जमाना बदल चुका है पहले नेताओको टेंशन होती थी की जो बोलेंगे वह छपेगा की नहीं अब नहीं होगा क्योंकि उनकी बात गाव के अंतिम छोर तक पबुच जाती है। और यह पहुचाने वाली सेना हमारे सामने बैठी है। चुनाव में जब एक हमारी बात नहीं पहुचती है तब एक हम लोगों को अपने पक्ष में नहीं कर सकते 2012 से मेरा यूपी से जुड़ाव हो गया है पार्टी में महासचिव बनाया। यूपी की जिम्मेदारी दी और फिर 2014 आया। जिसमे देश की जनता ने पूर्ण बहुमत की सरकार चुनी। जनता ने भाजपा के हाथ में भरोसा कर पूर्ण बहुमत की सरकार सौप दी। इसका श्रेय किसी एक राज्य की जनता को देना है तो वह यूपी की जनता को है। 80 में से 73 सीट दी सभागार में बैठी साइबर योद्धाओं के माध्यम से यूपी की जनता को शत शत नमन। अभी 2 दिन पहले अखिलेश जी हाथ में कुछ रखकर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे की 2.5 साल में मोदी जी ने क्या किया। अरे अखिलेश बाबू अभी बारी आपकी है 5 साल का हिसाब देने की है। अखिलेश जी अगर कान खुले है बहरे नहीं हुए है तो ढाई साल के अंदर मोदी सरकार ने जो किया है वह आप और आपकी साथी कांग्रेस सरकार ने मिलकर 70 साल में नहीं कर सके। जब 2014 में चुनाव का समय था तब माहौल कैसा था पूरा देश हताशा में था। तब जनता ने फैसला किया। अखिलेश बाबू और बहन जी दोनों लोग हमसे हिसाब पूछ रहे है कि बताओ भाई क्या हुआ। सपा बसपा और कांग्रेस तीनो ने मिलकर 10 साल तक केंद्र में सरकार रही है। सपा और बसपा का समर्थन था। कांग्रेस के साथ सपा और बसपा भी जिम्मेदार है। कांग्रेस की दो बैसाखियां थी सपा और बसपा। अपनी इस जिम्मेदारी से यह भाग नहीं सकती। हमने सबसे पहले बोलने वाला पीएम दिया। 10 साल तकंपीएम की आवाज माँ बेटे के अलावा किसी ने नहीं सुनी। अखिलेश बाबूभाजपा सरकार हर समस्या के लिए फैसले लेने वाली सरकार है। अभी यूपी में मालूम ही नहीं पड़ता की सीएम कौन है उन्होंने लोगों से पूछा कितने सीएम है। आज हर मंत्री काम करने वाले मंत्री स्वतंत्र है। मोदी जी का नारा सबका साथ सबका विकास का नारा सोनिया जी कही सुन गई थी उन्होंने भ्रस्टाचार में समानता रखी। कहा बहन जी और अखिलेश ने मुफ्त में समर्थन नहीं दिया होगा। भ्रस्टाचार वाली सरकार की जगह अखिलेश बाबू ऐसी सरकार चलाई । हमसे क्या हिसाब मांग रही हो बहन जी अपने गिरेबान में झांक कर देखो। टिकेट के लिए पैसे मांगती है इसलिए लोग वहां से छोड़कर भाग रहे हैं।

Next Story
Share it