aapkikhabar aapkikhabar

चेहरे को साफ दिखने का प्रयास कर रही सरकार



चेहरे को साफ दिखने का प्रयास कर रही सरकार

aapkikhabar.com

लखनऊ - प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने चौतरफा घिरने के बाद खनन मंत्री श्री गायत्री प्रसाद प्रजापति एवं पंचायतीराज मंत्री श्री राजकिशोर सिंह को बर्खास्त कर दिया। साढ़े चार साल तक खनन के जरिये हुई लूट को पूरे प्रदेश की जनता जानती है। मा0 उच्च न्यायालय भी खनन विभाग की कार्यवाही पर सी0बी0आई0 जांच का आदेश दे चुका है। चुनाव के नजदीक आने पर तीन-चार महीने के लिए मुख्यमंत्री ने दो मंत्रियों को बर्खास्त कर सरकार के चेहरे को साफ दिखने का प्रयास किया है।
उ0प्र0 कंाग्रेस कमेटी के कम्युनिकेशन विभाग के चेयरमैन एवं पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार के अनेकों विभागों पर लगातार भ्रष्टाचार के आरोप लगाये गये। लोकायुक्त द्वारा प्रदेश की पूर्ववर्ती मायावती सरकार के पूर्व मंत्रियों पर कार्यवाही के लिए पत्रावलियां मुख्यमंत्री के पास भेजी गयीं लेकिन मुख्यमंत्री ने आज तक उन पत्रावलियों पर कोई कार्यवाही नहीं की। सपा प्रमुख श्री मुलायम सिंह यादव तमाम मंत्रियों के भ्रष्टाचार पर उंगली उठाते रहे हैं। यह बर्खास्तगी केवल दिखावा है। चुनावी स्टंट है। इस प्रक्रिया में भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए गंभीरता व ईमानदारी का पूरी तरह अभाव है।

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के