aapkikhabar aapkikhabar

बलरामपुर में सपा-बसपा के लिए चुनौती बनेंगे रिजवान ज़हीर



बलरामपुर में सपा-बसपा के लिए चुनौती बनेंगे रिजवान ज़हीर

aapkikhabar.com

लखनऊ - बलरामपुर की तुलसीपुर विधानसभा क्षेत्र में रविवार को होने वाली कांग्रेस की परिवर्तन रैली में देवीपाटन मंडल के लाखों मुस्लिमों के शामिल होने की सम्भावना से सपा व बसपा नेताओं की नींद उड़ गई है | इस रैली में शरीक होने वाले अधिकांश मुस्लिम बाहुबली व पूर्व सांसद रिजवान ज़हीर के समर्थक होंगे | इस परिवर्तन रैली को ऐतिहासिक बनाने की तैयारियां पखवारे भर से की जा रही हैं | रैली को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ,प्रदेश कांग्रेस प्रभारी गुलाम नबी आजाद व यूपी कांग्रेस चुनाव प्रभारी डॉ संजय सिंह संबोधित करेंगे | रैली को सफल बनाने व नेताओं को हेलीकाप्टर से लाने आदि पर करीब पचास लाख रूपये खर्च होने का अनुमान है | पूर्व सांसद रिजवान ज़हीर इस रैली के मंच से न सिर्फ कांग्रेस में शामिल होंगे बल्कि मंडल के चरों जिलों में मुसलमानों में अपनी मजबूत पकड़ का एहसास भी कांग्रेसी नेताओं को कराएँगे |

सपा - बसपा में अपनी पकड़ का एहसास करा चुके हैं पूर्व सांसद 

53 वर्षीय  रिजवान जहीर पहली बार 1989 में तुलसीपुर विधानसभा से निर्दलीय विधायक बने | 1993 में सपा व 1996 में बसपा से इसी क्षेत्र से विधायक चुने गए |1998 व 1999 में बलरामपुर संसदीय क्षेत्र से सपा के सांसद रहे | 2004 व 2009 में बसपा के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लडे लेकिन कांटे की टक्कर में चुनाव नहीं जीत सके | 2014 के चुनाव में श्रावस्ती लोकसभा क्षेत्र से पीस पार्टी के टिकट पर चुनाव लडे जिसमे एक लाख से अधिक वोट पाकर भी तीसरे नंबर पर रहे | सपा- बसपा में रहते हुए बाहुबली व पूर्व सांसद ने मुलायम सिंह यादव व मायावती को ऐसी चुनौतियाँ दे दी जिससे दोनों पार्टिया उनके खिलाफ मजबूत मुश्लिम प्रत्याशी उतारने लगी |
तुलसीपुर के स्वतंत्र भारत कालेज के पास के मैदान में आयोजित कांग्रेस की परिवर्तन रैली की तैयारी तुलसीपुर नगर पंचायत अध्यक्ष की देखरेख में पुरी हो रही है | खुद पूर्व सांसद रिजवान रोज रैली स्थल जाकर स्थिति का जायजा ले रहे हैं | इस रैली में गोंडा बलरामपुर बहराइच व श्रावस्ती के लाखों मुस्लिम शामिल होकर पूर्व सांसद रिजवान ज़हीर की क्षेत्र में मजबूत पकड़ का एहसास कराएँगे | रैली की तैयारियों व मुस्लिमों के जमावड़े की उम्मीद  से सपा -बसपा के नेताओं का चैन छिन गया है और उन्हें यह शंका हो रही है कि यदि गोंडा बलरामपुर व बहराइच के मुस्लिम मतदाता रिजवान ज़हीर के समर्थन में कांग्रेस की ओर मुद जायेंगे तो आगामी विधानसभा चुनाव में उनके दर्जनों प्रत्याशियों का समीकरण गड़बड़ा जायेगा |





-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के