Top
Aap Ki Khabar

मायावती के बाद अब मुलायम ने लिया मोदी को निशाने पर गरीबों की दी दुहाई

मायावती के बाद अब मुलायम ने लिया मोदी को निशाने पर गरीबों की दी दुहाई
X
लखनऊ -प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 और 1000 के नोट बंद किये जाने के बाद अब विरोधी दलों के विरोध के सुर उठने लगे हैं पहले मायावती और अब मुलायम ने भी मोदी के कदम के तरीके पर सवाल उठाते हुए कहा कि लोगों को कुछ मौका मिलना चाहिए था साथ ही महिलाओं से सहानुभूति दिखाते हुए कहा कि उन्हें पांच लाख तक जाम करने की छूट दे जानी चाहिए मुलायम ने यह भी कहा कि काले धन के खिलाफ हम भी हैं। हम भी नहीं चाहते कि चुनाव में काला धन लगे। भाजपा ने कहा था की विदेश से काला धन लाएंगे। आम जनता को अपनी जरुरत का सामान नहीं मिल रहा है पूरे देश में तनाव फैला हुआ है।मुलायम ने कहा कि काला धन विदेशों से लाने की मुहिम पर वे फेल रहे लेकिन वह मात्र 3 - 4 हजार करोड़ ला पाए । दबाव में 8 नवंबर 2016 को आधी रात में केंद्र सरकार ने एक हजार और पांच सौ के नोट एका एक बंद कर दिए । यहां एक गरीब महिला की मौत हो गई वह 500 रुपए के 4 नोट लेकर बैंक से आई थी। हॉस्पिटल में आपरेशन नहीं हो पा रही है, बीजेपी को केवल चुनाव दिख रहा है। केन्द्र सरकार को लोगों को कुछ मौक़ा देना चाहिये चाहे वो एक हफ़्तें का ही क्यों न हो उसके बाद सपा सरकार के इस फ़ैसले के साथ है। महिलाओं को कम से कम पाँच लाख रूपये जमा होने की सुविधा होनी चाहियें। मुलायम ने कहा की आम जनता को बहुत सारी परेशानियां हो रही है दवाइयाँ नहीं मिल रहीं हैं जनता परेशान है ।शादियां रुक गई हैं। सपा सुप्रीमो ने गठबंधन के सवाल पर कहा कि समाजवादी पार्टी कोई भी गठबंधन नहीं करेगी, जो चाहे वो पार्टी में विलय कर सकता है। काला धन मामले में मोदी द्वारा की गई कार्यवाई का असर अब दिखना शुरू हो गया है । चुनाव में काले धन के इस्तेमाल की बात नकारी नहीं जा सकती है । मायावती के हमले के बाद अब मुलायम का हमला यह माना जा रहा है कि चुनाव में धन की तैयारी किये हुए पार्टियों पर भी मोदी की सर्जिकल स्ट्राइक का असर दिख रहा है ।
Next Story
Share it