Top
Aap Ki Khabar

अब राम गोपाल हुए भावुक

अब राम गोपाल हुए भावुक
X
इटावा -मुझे कभी मंत्री नहीं बनना है और न ही कुछ ऐसा चाहता हूं भ्रस्टाचार के आरोप लगने से काफी दुखी हूँ | मैंने सपा का संविधान लिखा और कई मुश्किलों से निकाला है | यह शब्द थे राम गोपाल यादव के जिन्होंने इटावा में पत्रकारों से बात करते हुए कही | समाजवादी से निष्कासित किए गए वरिष्ठ नेता और सांसद रामगोपाल यादव काफी आहत नजर आ रहे हैं। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के खेमे के माने जाने वाले रामगोपाल यादव ने इटावा में आरोप लगाया कि विधानसभा चुनाव के लिए टिकट बांटने की प्रक्रिया में सीएम अखिलेश को नजरअंदाज किया जा रहा है। मगोपाल यादव ने कहा कि विधायकों और सांसदों की मांग है कि बिना मुख्यमंत्री की अनुमति के टिकट बंटवारा नहीं किया जाए। अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री का चेहरा बनाया जाए और निकाले गए सभी पार्टी नेताओं को वापस बुलाया जाए।



Next Story
Share it