aapkikhabar aapkikhabar

सूरत के व्यापारी ने जमा किये 6000 करोड़ और ख़ुशी ख़ुशी जमा किये पेनाल्टी



 सूरत के व्यापारी ने जमा किये 6000 करोड़ और ख़ुशी ख़ुशी जमा किये पेनाल्टी

aapkikhabar.com

नई दिल्ली -अगर नीयत सही हो तो काम भी सही होगा | एक बार मोदी का सूट खरीदने वाले व्यापारी ने अब 6000 करोड़ बैंक खाते में जमा किये और ख़ुशी ख़ुशी बैंक को पेनल्टी भी भरी | अब एक बार लालजी भाई पटेल नाम  का यह व्यापारी फिर से ख़बरों में है |
 कालेधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सर्जिकल स्ट्राइक के नतीजे आने शुरू हो गए हैं। सूरत के जिस कारोबरी ने कुछ समय पहले प्रधानमंत्री के सूट को 4.3 करोड़ रुपये में खरीदकर जबर्दस्त सुर्खियां बटोरी थीं और गिनीज बुक में नाम दर्ज कराया था। इस सूट पर बारीक अक्षरों में नरेंद्र मोदी का नाम लिखा था।खबरों के मुताबिक लालजी भाई पटेल नाम के इस ज्वैलर्स ने एक और रिकॉर्ड बनाया है। उन्होंने सरकार को 6000 करोड़ रुपये के पुराने नोट सरेंडर किए हैं। यही नहीं, लालजी भाई सरकार को टैक्स के रूप में 5,400 करोड़ रुपये अलग से देंगे, जिसमें 30 फीसदी की दर से 1800 करोड़ रुपये इनकम टैक्स और 200 फीसदी की पेनल्टी भी शामिल होगी।
व्यापारी लालजी भाई पहले भी खबरों में रहे हैं| अगर इसी तरह से देश के जो लोग नोट को फेंक दे रहे हैं अगर वह बैंक में जमा करें तो काला धन होने के बाद भी वह देश की जहाँ सेवा करेंगे वहीँ गरीब लोगों के लिए देश का एजेंडा तय करने में भी आसानी होगी | 
-उन्हें देश के सबसे अमीर ज्वैलरों में से एक माना जाता है।पिछले कई साल से वह कई सामाजिक कामों के लिए रकम दान देते रहे हैं। मोदी का सूट खरीदने के बाद वह खूब चर्चित हुए।इस साल फरवरी में भी वह सुर्खियों में रहे जब उन्होंने गर्ल चाइल्ड की शिक्षा के लिए 200 करोड़ का दान करने की घोषणा की।दिवाली जैसे त्योहारों पर अपने कर्मचारियों को फ्लैट और कार गिफ्ट करने के लिए भी वह आमतौर पर खबरों में बने रहते हैं।
देश के कई लोग ऐसे हैं जिन्होंने नोट बंदी  होने के बाद भी परेशान होने के बजाय धैर्य का परिचय दे रहे हैं |

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के