Top
Aap Ki Khabar

नोट बंदी के बाद मोदी ने दी अबतक की सबसे बड़ी खुशखबरी !

नोट बंदी के बाद मोदी ने दी अबतक की सबसे बड़ी खुशखबरी !
X
डेस्क - अच्छे दिन आने वाले हैं यह अब एक जुमला ही नहीं होगा | मोदी सरकार ने जिस तरह से नोटबंदी का कदम उठाया उससे लाइन में लगे लोगों को तकलीफ तो हो रही है लेकिन एक सहारा भी है कि अब देश की स्थिति सुधरेगी और आम लोगों को सुविधाएँ भी बढेंगी |इन चीजों पर पड़ेगा मोदी के नोट बैन का इफेक्ट 1-सस्ते होंगे मकान
क्या किसी गरीब या मिडल क्लास वाले के पास काला धन है? लेकिन मिडल क्लास भी जब घर खरीदने जाता है तो बेचने वाला उससे कहता है कि इतना पैसा आपको कैश में देना पड़ेगा. उसे अपना व्हाइट मनी ब्लैक में देना पड़ता है. पूरी इकॉनमी को कुछ लोगों ने बर्बाद करके गरीब और मध्य वर्ग को लूटा है.’
प्रधानमंत्री ने उचित ही इस समस्या को रेखांकित किया है. इससे हम सब पीड़ित हैं. इसका ये अर्थ भी निकाला जा सकता है कि क्या प्रधानमंत्री ये काम भी रुक जाने का दावा कर गए. रुके न सही, पर मंद पड़ने की उम्मीद तो कर सकते हैं? है ना!2-कम ब्याज पर लोगों को मिलेगा पैसा गरीब ईमानदारी से जीना चाहता है. क्या उसकी रक्षा करना, ये सरकार का दायित्व है कि नहीं है? मेरे इस कदम से मध्यम वर्ग के मानवीय को सुरक्षा मिलने वाली है. जो गरीब है, उसे हक मिलता नहीं है. गरीब को हक चाहिए. बीच में लुटेरों के कारण हक नहीं मिल पा रहा है. मध्यमवर्ग का शोषण बंद होगा. गरीब को हक मिलेगा. पैसे जमा हो गए हैं. बैंकों में 5 लाख करोड़ रुपया आया है. आगे भी आएगा. बैंक वाले क्या इसे डिब्बे में बंद रखेंगे? उनको बाजार में देना पड़ेगा. लोन देना पड़ेगा. कोई नाई की दुकान देना चाहता है तो लोन देना पड़ेगा. धोबी, बर्तन, कपड़े की दुकान के लिए लोन देना पड़ेगा. और इतने सारे पैसे निकालने के लिए उनको ब्याज भी कम करना पड़ेगा. बहुत कम ब्याज में रुपया गरीब और मध्यवर्ग को मिलने वाला है.’यानी हमारी EMI घटेगी और नए लोन भी सस्ते होंगे.
शिक्षा सस्ती हो सकती है
गरीब और मध्य वर्ग के पास काला धन होता है क्या? नौकरी करके कमाने वालों के पास काला धन होता है क्या? फिर भी स्कूलों में बच्चों के एडमिशन के लिए उनसे कैश पैसा मांगा जाता है. उसे अपनी व्हाइट मनी ब्लैक में देनी पड़ती है. गरीब और मध्यम वर्ग के मां-बाप पैसों के अभाव में लुटेरों के कारण नहीं दे पाते हैं. अब वो बीमारी जाने वाली है.’अगले सेशन के एडमिशन चार महीने बाद शुरू हो जाएंगे. अगर आप बच्चे का एडमिशन कराने जा रहे हैं तो टेस्ट कीजिएगा. व्हाइट मनी को ब्लैक में मांगने का धंधा रुका है या नहीं..सोर्स वेब
Next Story
Share it