aapkikhabar aapkikhabar

अभी कई और सपाई थामेंगे बसपा सहित अन्य दलों का साथ



अभी कई और सपाई थामेंगे बसपा सहित अन्य दलों का साथ

aapkikhabar.com

लखनऊ -विकास के नाम पर वोट मांग रहे अखिलेश यादव का उन्ही के पार्टी का विकास करने वाले लोग साथ छोड़ रहे हैं
एक तरफ वो लोग भी शामिल हैं जो उपेक्षित महसूस कर रहे हैं और वो लोग भी हैं जो शिवपाल खेमे के होने के कारण निशाने पर भी हैं ।
समाजवादी पार्टी से नाता तोड़कर बसपा का दामन थामने वाले अंबिका चौधरी की तरह कई और विधायक दूसरे दलों में ठौर की तलाश में हैं। बताया जा रहा है कि इसमें कुछ बसपा के संपर्क में भी हैं। बसपा से संपर्क में पूर्वांचल के दो विधायक बताए जा रहे हैं। अखिलेश की नाराजगी के चलते यह अपने को सपा में उपेक्षित महसूस कर रहे हैं।

टिकट काटे गए और बदले गए लोग भी चल रहे नाराज
सपा की कमान अब पूरी तरह से मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के हाथ में है। इसके चलते शिवपाल के समर्थक अपने को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं। अखिलेश यादव ने अब तक 208 उम्मीदवारों की सूची जारी है। अखिलेश ने एक मंत्री समेत करीब 20 विधायकों के टिकट काटे हैं। बेनी प्रसाद वर्मा के पुत्र राकेश वर्मा की सीट रामनगर से बदलकर कैसरगंज कर दी गई है।
अखिलेश ने जिन विधायकों के टिकट काटे हैं अधिकतर शिवपाल के नजदीकी बताए जा रहे हैं। इसमें रघुराज शाक्य इटावा, आशीष यादव एटा, रामवीर यादव जसराना, ओमप्रकाश शर्मा शिकोहाबाद प्रमुख बताए जा रहे हैं। अखिलेश को हालांकि अभी सभी सीटों के लिए उम्मीदवारों की सूची जारी नहीं की है, लेकिन यह माना जा रहा है कि शिवपाल से कंधे से कंधा मिलाकर चलने वालों का टिकट काटा जा सकता है।

अम्बिका चौधरी के संपर्क में हैं कई विधायक
इसके चलते ही सपा में उपेक्षित चल रहे विधायकों का दूसरी पार्टियों में जाने की संभावनाएं जताई जा रही हैं। अंबिका चौधरी के बसपा में जाने के बाद यह संभावना और प्रबल होती हुई दिखाई देने लगी है। जानकारों की माने तो उपेक्षा महसूस करने वाले सपा के कई विधायक दूसरी पार्टियों के संपर्क में हैं।

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के