Top
Aap Ki Khabar

हिस्टॉरिकल जगहों पर गूगल देगा वाई फाई

हिस्टॉरिकल जगहों पर गूगल देगा वाई फाई
X
नई दिल्ली - गूगल नए प्रयोग करने के लिए जाना जाता है अब गूगल हिस्टॉरिक महत्व के जगहों पर वाई -फाई शुरू करने जा रहा है । इस साल मई के महीने से दिल्ली स्थित राष्ट्रीय रेल संग्रहालय समेत रेलवे के तमाम ऐतिहासिक महत्त्व वाली इमारतें गूगल, ताज होटल्स और आईआरसीटीसी के सहयोग से एकदम नए रूप में नजर आने लगेंगी। इसके साथ ही गूगल रेल संग्रहालय में मुफ्त वाई-फाई सेवा भी शुरू करने जा रहा है। गूगल (जीसीआई) रेलवे की प्रमुख इमारतों और संस्थानों की विरासत को संजोकर रखने के इस अभियान की अगुआई कर रही है। रेल संग्रहालय में मौजूद धरोहर को डिजिटल स्वरूप में संजोने का जिम्मा जीसीआई को दिया गया है और इस तरह लोग मुफ्त में ही रेल संग्रहालय में रखे साजो-सामान को देख सकेंगे। जीसीआई की वेबसाइट पर कोलकाता स्थित भारतीय संग्रहालय और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण के बारे में भी जानकारी उपलब्ध है। सांस्कृतिक महत्त्व वाली जानकारियों को अगली पीढिय़ों के लिए संरक्षित रखने के मकसद से गूगल ने वर्ष 2011 में जीसीआई की शुरुआत की थी। जीसीआई दुनिया के तमाम धरोहर स्थलों की त्रिआयामी बनावट दिखाता है। इसके अलावा विभिन्न संग्रहालयों के साथ मिलकर अभिलेखों की प्रदर्शनी भी पेश करता है। मौजूदा परियोजना से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि रेल संग्रहालय के बाद कई अन्य धरोहर स्थलों को भी इस दायरे में लाने की तैयारी है। इस अधिकारी ने कहा, 'आगे चलकर रेवाड़ी के भाप इंजन संग्रहालय को भी गूगल परियोजना में लाया जाएगा। फिर माउंटेन रेल, कुछ प्रमुख रेल पुलों और कलात्मक वस्तुओं को भी सांस्कृतिक संरक्षण वाली इस परियोजना से जोड़ा जा सकता है।' इस बारे में गूगल के साथ सहमति पत्र पर पहले ही हस्ताक्षर किए जा चुके हैं। दूसरी तरफ रेलवे की खानपान एवं टिकटिंग सेवा कंपनी आईआरसीटीसी दिल्ली के रेल संग्रहालय में शाम से सुबह तक का कामकाज अपने हाथ में लेने जा रही है। फिलहाल इस रेल संग्रहालय की देखरेख का जिम्मा सीधे रेलवे बोर्ड के पास है। दरअसल रेल संग्रहालय को इस तरह से विकसित करने की तैयारी है कि लोग यहां पर अपने परिवार के साथ घूमने-फिरने और मनोरंजन के मकसद से आएं। एक रेलवे अधिकारी ने कहा, 'आईआरसीटीसी इस संग्रहालय में रेस्टोरेंट खोलने की तैयारी में है जहां पर लोग रात में भी जा सकेंगे।' रेल अधिकारियों की मानें तो अगले तीन महीनों में ये सुविधाएं शुरू हो जाएंगी। टाटा समूह की कंपनी ताज होटल्स ने पहले ही रेल संग्रहालय के सुंदरीकरण का काम शुरू कर दिया है। दिल्ली के चाणक्यपुरी इलाके में करीब 10 एकड़ भूभाग में बने रेल संग्रहालय में भारतीय रेल के सफर से जुड़े सामान प्रदर्शिक किए गए हैं। अब इस संग्रहालय को फिल्मों की शूटिंग के लिए भी खोलने का फैसला लिया गया है। रेलवे अपनी इस परियोजना को लेकर खासा उत्साहित है। इसके लिए संबंधित मंत्रालयों की मंजूरी भी ली जा चुकी है। एक अधिकारी ने कहा कि वर्ष 2025 तक रेलवे से जुड़ी सभी पुरानी इमारतों और जगहों को डिजिटल स्वरूप में पेश करने की योजना है ताकि इतिहास में रुचि रखने वाले लोग ऑनलाइन देख सकें। सौर्स वेब
Next Story
Share it