Top
Aap Ki Khabar

नोटबंदी पर अब तक का सबसे बड़ा खुलासा

नोटबंदी पर अब तक का सबसे बड़ा खुलासा
X
दिल्ली - केन्द्र सरकार और रिजर्व बैंक के बीच इन परामर्श वार्ताओं के बीच मई 2016 से आरबीआई ने 2000 रुपये की नई करेंसी के प्रिंटिंग का काम शुरू करने का फैसला लिया, रिजर्व बैंक बोर्ड ने मई 2016 में इन वार्ताओं के जारी रहते नई करेंसी के मुद्रण का फैसला लिया और 2000 रुपये की करेंसी से 500 और 1000 रुपये की सर्वाधिक प्रचलित करेंसी की डिजाइन तय कर दी थी....

नोटबंदी का फैसला 8 नवंबर को लिया गया और इसे केन्द्र सरकार ने रिजर्व बैंक के साथ 9 महीनों तक चली कई दौर की परामर्श के बाद लिया. ये बातें वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राज्य सभा में नोटबंदी पर उठे सवाल के जवाब में कही....प्रश्नकाल के दौरान सवाल का जवाब देते हुए जेटली ने राज्य सभा को बताया कि नोटबंदी का फैसला पूरी गोपनियता के साथ लिया जाना था लिहाजा केन्द्र सरकार और रिजर्व बैंक की इन वार्ताओं को आम नहीं किया गया.....वित्त मंत्री ने बताया कि जेटली ने बताया कि रिजर्व बैंक के उच्च स्तरीय अधिकारियों से नई करेंसी पर वार्ता फरवरी 2016 से शुरू हो चुकी थी.जेटली ने सदन को यह भी बताया कि 8 नवंबर को नोटबंदी का फैसला लेने से पहले रिजर्व बैंक बोर्ड के 10 डायरेक्टर में से 8 डायरेक्टर मौजूद थे. इन 8 डायरेक्टर्स ने केन्द्र सरकार को इसी दिन स्वतंत्र और अंतिम परामर्श दिया जिसे केन्द्र सरकार ने मान लिया.


Next Story
Share it