Top
Aap Ki Khabar

केरल में मचा घमासान कहीं बम चले तो कहीं आफिस जला

केरल में मचा घमासान कहीं बम चले तो कहीं आफिस जला
X

तिरुअनन्थ्पुरम -आरएसएस और सीपीएम के बीच मचा घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है |पहले हमला आरएसएस के कार्यालय पर हुआ और अब सीपीएम के दफ्तर को भी आग के हवाले कर दिया गया| केरल में बीती रात कोझिकोड के विश्णुमंगल इलाके में सत्तारूढ़ पार्टी सीपीएम के दफ्तर को भी आग के हवाले कर दिया गया। इस आगजनी में किसी के घायल होने की सूचना नहीं है। इससे पहले कोझीकोड के नदापुरम में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) के दफ्तर पर कुछ अज्ञात लोगों ने कल देर शाम बम फेंक दिया जिसमें चार आरएसएस कार्यकर्ता घायल हो गए।

जानिए क्या क्या हुआ

  • कलाची में गुरुवार रात को करीब साढ़े आठ बजे यह घटना घटी।
  • घायलों की पहचान बाबू, विनेश, सुधीर और सुनील के रूप में हुई है।
  • पुलिस के अनुसार बाबू और विनेश गंभीर रूप से घायल हो गए जिन्हें कोक्षिकोड मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया जबकि दो अन्य को यहां के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया।
  • इससे पहले RSS के एक पदाधिकारी ने केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन का सिर कलम करने पर एक करोड़ रुपये के इनाम की घोषणा कर विवाद छेड़ दिया।
  • विजयन ने अपनी जान को खतरा होने की बात खारिज करते हुए कहा कि उन्हें कहीं आने जाने से नहीं रोकेगा।
  • दूसरी ओर सीपीएम और कांग्रेस ने आरएसएस पदाधिकारी की टिप्पणी को लेकर उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की है।
  • मध्य प्रदेश के उज्जैन में आरएसएस के सह प्रचार प्रमुख कुंदन चंद्रावत ने केरल में अपने कार्यकर्ताओं की कथित तौर पर सीपीएम कार्यकर्ताओं द्वारा की गई हत्या का बदला लेने पर इनाम देने की घोषणा की। हालांकि, आरएसएस ने चंद्रावत की टिप्पणी से जल्द ही अपनी दूरी बना ली।
  • संघ पर प्रहार करते हुए माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने ट्वीट किया कि चंद्रावत की टिप्पणी से आतंकी संगठन के रूप में आरएसएस का असली रंग सामने आया है। येचुरी ने टिप्पणी पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राजग सरकार की चुप्पी पर भी सवाल किया।
  • केरल में सत्तारूढ़ सीपीएम राज्य सचिवालय ने कहा है कि बयान से साफ जाहिर होता है कि आरएसएस आतंक का चेहरा है।
  • इसने गैर कानूनी गतिविधि निवारण अधिनियम के तहत चंद्रावत की गिरफ्तारी की मांग की।

Photo courtesyANI


Next Story
Share it