Top
Aap Ki Khabar

24 अप्रैल के बाद इस बैंक के सौ से ज्यादा ब्रांच बंद हो जायेंगे

24 अप्रैल के बाद इस बैंक के सौ से ज्यादा ब्रांच बंद हो जायेंगे
X

नई दिल्ली -अब स्टेट बैंक के सहयोगी बैंक की आधी शाखाएं बंद होने जा रही हैं इसकी प्रक्रिया 24 अप्रैल से शुरू होने जा रही है और इसके साथ ही एसबीआई विश्व के पचास बड़े बैकों में धमिल हो जायेगा ।
भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) में एक अप्रैल को पांच सहयोगी बैंकों का विलय हो जाएगा. इसके बाद एसबीआई ने इन बैंकों की करीब आधी शाखाओं को बंद करने का फैसला किया है, जिसमें तीन बैंकों का मुख्यालय भी शामिल है. बैंक शाखाओं की बंद करने की प्रक्रिया 24 अप्रैल से शुरू होगी.
अब केवल पांच सहयोगी बैंकों के मुख्यालयों में से केवल दो को जारी रहेगी । तीन सहयोगी बैंकों की शाखाओं के साथ 27 जोनल कार्यालय, 81 क्षेत्रीय कार्यालय और 11 नेटवर्क कार्यालयों को बंद कर दिया जाएगा।

  • जिन पांच सहयोगी बैंकों का एसबीआई में विलय हो रहा है, उनमें एसबीबीजे (स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर),
  • एसबीएम (स्टेट बैंक ऑफ मैसूर),
  • एसबीटी (स्टेट बैंक ऑफ ट्रावनकोर)
  • , एसबीपी (स्टेट बैंक ऑफ पटियाला) और एसबीएच (स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद) शामिल हैं.
  • एसबीआई देश का सबसे बड़ा बैंक है,
  • जिसकी परिसंपत्तियां 30.72 लाख करोड़ रुपये की है और वैश्विक रैकिंग में यह 64वें नंबर पर है (दिसंबर 2015 के आंकड़ों पर आधारित, दिसंबर 2016 के आंकड़े अभी तक आए नहीं हैं).

इस विलय के बाद एसबीआई की परिसंपत्तियां बढ़कर 40 लाख करोड़ रुपये हो जाएंगी. इसके साथ ही यह दुनिया के शीर्ष 50 बैंकों में शामिल हो जाएगा.
एसबीआई के विलय के बाद बैंक दुनिया में 45 नंबर पर आ जाएगा।

सोर्स वेब


Next Story
Share it