Top
Aap Ki Khabar

आतंकवाद को पालने पर क़तर पर टूटा कहर पांच देशों ने सम्बन्ध तोड़े

आतंकवाद को पालने पर क़तर पर टूटा कहर पांच देशों ने सम्बन्ध तोड़े
X

डेस्क- सऊदी अरब आतंकवाद और चरमपंथ के खतरों से देश को बचाने के लिए कतर से राजनयिक संबध तोड़ रहा है |कतर की गतिविधियों से अलकायदा और इस्लामिक स्टेट जैसे आतंकवादी संगठनों और विद्रोही मिलिशिया को मजबूती मिल रही है।यूएई ने भी कतर पर आतंकवाद का वित्तपोषण करने, आतंकवाद और चरमपंथ को बढ़ावा देने का आरोप लगाया।
इन देशों ने कतर पर मुस्लिम ब्रदरहुड नाम के संगठन को बढ़ावा देने के साथ आतंकवादी समूहों को सहयोग देने और उनके आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाते हुए संबंध तोड़े हैं।

  • मिस्र के विदेश मंत्रालय का कहना है कि ‘कतर की नीति से अरब जगत की राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा है और यह अरब समाज में तनाव और विभेद के बीज बोने का काम कर रही है।
  • इन पांचों देशों ने कतर से अपने राजनयिकों को वापस बुलाने के साथ अगले 24 घंटों के भीतर कतर से भूमि, जल और वायु संपर्क भी बंद करने का ऐलान किया है।
  • बहरीन ने आधिकारिक बयान जारी कर कहा कि कतर उसके आतंरिक मामलों में हस्तक्षेप कर रहा है और उसके खिलाफ नकारात्मक प्रचार में शामिल है।
  • यह आतंकवादी गतिविधियों और सशस्त्र बलों को सहयोग देने और ईरान समर्थित समूहों का वित्तपोषण करने के लिए भी जिम्मेदार है, जो देश में हिंसा और विध्वंस के लिए जिम्मेदार हैं।
  • बहरीन ने कतर के राजनयिकों से 48 घंटों के भीतर देश छोड़कर जाने को कहा है।


Next Story
Share it