aapkikhabar aapkikhabar

जब तक प्रदेश शांत नहीं हो जाता जल के अलावा कुछ नहीं ग्रहण करूँगा



जब तक प्रदेश शांत नहीं हो जाता  जल के अलावा कुछ  नहीं ग्रहण करूँगा

aapkikhabar.com

भोपाल - यहीं से सरकार चलेगी | किसानों से बात करूँगा बैठकें होगी | किसानों के साथ यही बैठक की जाएगी | मंत्रिमंडल यहीं काम करेगा | आन्दोलन सफल करने के लिए बसें जला दी गई , दूध बहा दिया गया | किसानों का नुक्सान किया गया जो बसें जलाई गई वह जनता की थी पुलिस घायल हो गई काफी गंभीर घायल हैं | मै इंसान हूँ पत्थर दिल नहीं हूँ | जनता की सुरक्षा जरुरत है | शांति बनी रहे इसके लिए पंडाल में बैठूँगा | मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उपवास पर संबोधित करते हुए कहा 


अगर अपना भी यह काम कर रहा है उसको भी मनाना है 


अगर यह प्रदेश अराजकता की ओर बढ़ा तो संभाल पाना मुश्किल हो जाएगा |


यह रास्ता उचित नहीं है |


मोहब्बत के सन्देश के साथ यहाँ बैठा हूँ आइये बात करिए |


हिंसा की बलि नहीं चढ़ने दी जाएगी |


 



-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के