Top
Aap Ki Khabar

गौ रक्षा के नाम पर किसी की जान लेना बर्दास्त नहीं

गौ रक्षा के नाम पर किसी की जान लेना बर्दास्त नहीं
X

अहमदाबाद - मोदी अपने दो दिन के गुजरात दौरे पर गुरुवार को अहमदाबाद पहुंचे. वहां से वह 100वीं वर्षगाठ मना रहे साबरमती आश्रम पहुंचे और श्रद्धांजलि अर्पित की. साबरमती आश्रम पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, महात्मा गांधी के विचारों से जो शक्ति मिलती है, उससे आज के समाज को लड़ने की शक्ति मिलती है. गाय की सेवा करना गांधी जी ने ही बताया है. उन्होंने कहा कि अगर गांधी जी को समझना है तो गांधी के गुरु श्रीराजचंद्र जी के जीवन के बारे में भी लोगों को जानना चाहिए. उन्होंने कहा, गोरक्षा के नाम पर लोगों को मारना ठीक नहीं. मैं मौजूदा हालात से बहुत पीडित हूं.

उन्‍होंने सवाल उठाते हुए कहा, क्‍या गोरक्षा के नाम पर किसी को मारना सही है. देश को अहिंसा के रास्‍ते पर चलना होगा. गोरक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेना गलत है. विनोबा से बड़ा देश का कोई गोरक्षक नहीं.

उन्होंने कहा, राजचंद्र जी ने अपने जीवन में काफी कुछ गंवाया था. भारत के बाद गांधी जी के नाम पर सबसे ज्यादा सड़कें पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा नीदरलैंड्स में हैं. दुनिया का कोई व्यक्तित्व गांधीजी को प्रभावित नहीं कर पाया, बड़ी-बड़ी हस्तियां उनसे मिलने आती थी. पर वे श्रीराजचंद्र जी से काफी प्रभावित थे. उन्होंने कहा कि इतिहास को भुलाना बहुत बड़ी भूल है. महापुरुषों को याद रखना जरुरी है.

इस दौरान उन्होंने आश्रम के रजिस्टर में संदेश भी लिखा. साबरमती आश्रम में प्रधानमंत्री ने महात्मा गांधी के आध्यात्मिक गुरु कहे जाने वाले श्रीमद राजचंद्र पर स्मारक डाक टिकट और सिक्का जारी किया.


Next Story
Share it