Top
Aap Ki Khabar

फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग ने दान की अपनी फेसबुक की 99 % संपत्ति

फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग ने दान की अपनी फेसबुक की 99 % संपत्ति
X

वाशिंगटन - फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग और उनकी पत्नी प्रिसिला चान ने बेटी ‘मैक्सिमा' के जन्म के मौके पर अपने जीवनकाल में कंपनी की 99 प्रतिशत हिस्सेदारी दान करने का फैसला किया है ताकि दुनिया में खुशियां बांटी जा सकें और स्वस्थ बनाया जा सके. जुकरबर्ग ने फेसबुक पेज पर ‘मैक्सिमा' को लिखे पत्र में जुकरबर्ग ने कहा ‘हम अपनी तरफ से एक छोटी सी कोशिश करना चाहते हैं ताकि ये दुनिया सारे बच्चों के लिए हो. हम अपने जीवन काल में फेसबुक की अपनी 99 प्रतिशत हिस्सेदारी. जो फिलहाल करीब 45 अरब डालर है का भुगतान इस दुनिया को अगली पीढी के लिए बेहतर बनाने के लिए कर सकेंगे.

  • 'उन्होंने कहा ‘प्रिसिला और मुझे अपनी बेटी ‘मैक्स' का इस दुनिया में स्वागत करते हुए खुशी हो रही है. उसके जन्म पर हमने उसे दुनिया के बारे में एक पत्र लिखा है जिसमें वह बडी होगी.' जुकरबर्ग ने कहा ‘ये ऐसी दुनिया है जिसमें हमारी पीढी रोगों की रोक-थाम, शिक्षा को व्यक्ति-अनुकूल बनाकर, मजबूत समुदाय बनाकर, गरीबी कम कर, समान अधिकार मुहैया कराकर और विभिन्न देशों में समझ बढाकर मानवीय क्षमता और समानता की भावना बढा सकती है.' उन्होंने कहा ‘हमें उम्मीद है कि तुम्हारी पीढी दो विचारों मानवीय संभावना और समानता को प्रोत्साहन पर ध्यान केंद्रित करेगी. मानवीय क्षमता बढाना सीमाओं का विस्तार करने जैसा है कि मानव जीवन कितना अहम हो सकता है.'
  • जुकरबर्ग ने कहा कि वह और प्रिसिला इन चुनौतियों के समाधान करने में अपना जीवन बिताने के लिए प्रतिबद्ध हैं. उन्होंने कहा ‘मैं आने वाले कई, कई सालों तक फेसबुक का मुख्यकारी बना रहूंगा लेकिन ये मुद्दे इतने महत्वपूर्ण हैं कि तब तक इसका इंतजार नहीं किया जा सकता कि तुम बडी हो और इस पर काम करो. युवा उम्र से शुरू करने से हमें उम्मीद है हमारे जीवनकाल में फायदा बढता हुआ देख पाएंगे.' इस पत्र में उन्होंने विश्व भर में अगली पीढी की मानवीय क्षमता और समानता बढाने के लिए दुनिया भर के लोगों से जुडने के लिए चान जुकरबर्ग पहल की घोषणा शुरू की.
  • जुकरबर्ग ने कहा ‘हम जानते हैं कि इन मुद्दों से जुडे संसाधनों और प्रतिभाओं के मुकाबले यह छोटा सा योगदान है. लेकिन उन लोगों के साथ-साथ हम जो कर सकते हैं वो करना चाहते हैं.' उन्होंने एक पत्र में कहा ‘हम आने वाले दिनों में और ब्योरा साझा करेंगे जब हम नए परिवार के बीच तालमेल बिठा लेंगे और मातृत्व तथा पितृत्व अवकाश से लौट आएंगे.' उन्होंने कहा ‘हमें पता है आपके दिमाग में कई सवाल होंगे कि हम ऐसा क्या और कैसे कर रहे हैं. माता-पिता बनने पर हम अपने जीवन के अगले दौर में प्रवेश करते हैं.'
  • जुकरबर्ग ने कहा ‘हम ये काम सिर्फ इसलिए कर सकते हैं क्योंकि हमारे पीछे मजबूत वैश्विक समुदाय खडा है. फेसबुक बनाने से दुनिया को अगली पीढी के लिए बेहतर बनाने का संसाधन पैदा हुआ है. फेसबुक समुदाय का हर सदस्य इसमें भूमिका अदा कर रहा है.'


Next Story
Share it