Top
Aap Ki Khabar

सरकार ने कमाए तीन लाख करोड़ फिर भी बढ़ा दिए गरीबों के जरूरत की चीजों के दाम

सरकार ने कमाए तीन लाख करोड़ फिर भी बढ़ा दिए गरीबों के जरूरत की चीजों के दाम
X

नई दिल्ली -जीएसटी लागू होने के बाद जीवन के हर स्तर पर फर्क दिखना शुरू हो गया है ।इसका पहला असर रसोई गैस सिलिंडर पर देखने को मिला है, जिसकी कीमत देशभर में प्रति सिलिंडर 32 रुपये तक बढ़ गई है।
इस मामले में कांग्रेस ने विरोध भी शुरू कर दिया है । कांग्रेस प्रवक्ता अजय माकन ने सरकार पर आरोप लगाया कि अंतर्राष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतें कम हुई हैं, लेकिन सरकार ने पेट्रोल और अन्य चीजों की कीमतें नहीं घटाईं।
उन्होंने कहा, “इससे सरकार को तीन लाख करोड़ का मुनाफा हुआ है। एक तरफ जहां सरकार लाभ कमा रही है, आम परिवार और गरीब तबका गैस सिलिंडर पर जीएसटी की मार झेल रहा है।”
कांग्रेस ने मंगलवार को रसोई गैस सिलिंडर पर वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के तहत लगाए गए पांच फीसदी कर को हटाने की मांग की है, क्योंकि इससे आम लोगों पर बोझ बढ़ेगा।
कांग्रेस प्रवक्ता अजय माकन ने कहा, “जीएसटी लागू करने से पहले वित्त मंत्रालय ने 15 जून को उन वस्तुओं की एक सूची जारी की थी, जिनके दाम जीएसटी के बाद कम होने थे, लेकिन हमेशा की तरह यह भी झूठ निकला।”
“रसोई गैस सिलिंडर की कीमत में वृद्धि का असर आम नागरिकों पर पड़ेगा। हमारी मांग है कि रसोई गैस सिलिंडर से जीएसटी हटाया जाए।”
माकन ने कहा, “भोजन और पेय पदार्थ, हेलमेट, डायलिसिस, रक्त की जांच, परिधान, जूते-चप्पल, सिर में लगाने वाला तेल, टूथपेस्ट, साबुन, कॉर्नफ्लेक्स, चाय, कॉफी, मक्खन, बिस्किट, दही, सीमेंट और डिब्बाबंद पानी जैसी मूलभूत वस्तुओं पर 18 से 28 फीसदी तक का कर लगाया गया है। जिसकी वजह से आम आदमी परेशान हो रहा है


Next Story
Share it