Top
Aap Ki Khabar

लालू के कई ठिकानों पर सीबीआई का छापा, लालू समेत परिवार पर केस दर्ज

लालू के कई ठिकानों पर सीबीआई का छापा, लालू समेत परिवार पर केस दर्ज
X

2006 में रेलमंत्री रहे लालू प्रसाद यादव, पत्नी राबड़ी देवी, उनके बेटों के साथ अन्य लोगों के खिलाफ CBI ने मामला दर्ज किया है. ANI के मुताबिक, इन सभी लोगों पर रांची और पुरी में रेलमंत्रालय द्वारा होटल बनाने के लिए जारी टेंडर में धांधली का आरोप है. उस दौरान लालू यादव रेल मंत्री थे.

  • इस सिलसिले में CBI ने दिल्ली, पटना, रांची, पुरी और गुडगाँव के 12 ठिकानों पर आज छापेमारी की है. इसी सिलसिले में राजद नेता प्रेम चंद गुप्ता के ठिकानों पर भी छापेमारी चल रही है. खबरों के मुताबिक, आईआरसीटीसी के होटल देशभर के तमाम बड़े शहरों व स्टेशनों के पास बनाए गए हैं. इन होटलों के रखरखाव के लिए जारी टेंडर में सीबीआई ने गड़बड़ी पाई और इस मामले में आज पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार के दूसरों सदस्यों के खिलाफ मामला दर्ज किया. इस मामले में आज 12 से ज्यादा जगहों पर सीबीआई छापेमारी कर रही है. इसमें पटना स्थित लालू यादव का अपना आवास भी शामिल है.
    सीबीआई सूत्रों के मुताबिक 2006 में तत्कालीन रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी, बिहार के उप मुख्यमंत्री और उनके बेटे तेजस्वी यादव, आईआरसीटीसी के तत्कालीन एमडी पी के गोयल, यादव के विश्वासपात्र प्रेमचंद गुप्ता की पत्नी सुजाता और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. गुप्ता कॉर्पोरेट मामलों के पूर्व केंद्रीय मंत्री हैं.
  • 2006 में रांची और पुरी के बीएनआर होटलों के विकास, रखरखाव और संचालन के लिए निविदाओं में कथित तौर पर अनियमितताएं पाईं गईं और इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज की गई है. यह निविदाएं निजी सुजाता होटेल्स को दी गई थीं. बीएनआर होटल रेलवे के हैरिटेज होटल हैं जिन्हें 2006 में आईआरसीटीसी ने अपने नियंत्रण में ले लिया था.
  • आज लालू यादव को चारा घोटाले में भी सीबीआई कोर्ट में पेश होना है. 1996 में पशुओं के चारा के नाम पर 950 करोड़ रुपये सरकारी खजाने से फर्जीवाड़ा करके निकाल लिये जाने का मामला उजागर हुआ था. इसमें 44 से अधिक मामले दर्ज किये गये थे. इन्हीं में झारखंड में देवघर व डोरंडा का मामला भी शामिल हैं. इससे पहले वह 6 जून को चारा घोटाले के एक मामले में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की पटना के सीबीआई कोर्ट में पेशी हुई थी.
  • इससे पहले 16 मई को लालू यादव के दिल्ली-गुरुग्राम स्थित 22 ठिकानों पर छापेमारी की गई थी. ये छापेमारी भी जमीन सौदों को लेकर की गई थी. आरोप है कि 1 हजार करोड़ का बेनामी जमीन का सौद किया गया.

Next Story
Share it