Top
Aap Ki Khabar

अहमद पटेल मामले पर अटैक से डिफेन्स की मुद्रा में कांग्रेस कहा 2014 में ही दे दिया था इस्तीफ़ा

अहमद पटेल मामले पर अटैक से डिफेन्स की मुद्रा में कांग्रेस कहा 2014  में ही दे दिया था इस्तीफ़ा
X

अहमदाबाद - गुजरात में विधानसभा चुनाव होने हैं ऐसे में आरोप प्रत्यारोप न हों ऐसा कैसे हो सकते हैं | अभी राहुल गाँधी और हार्दिक पटेल की आपसी मुलाकात और भाजपा के नेताओं पर पाटीदार नेताओं को अपने पाले में लाने के लिए घूस की पेशकश और अब राज्यसभा सांसद अहमद पटेल पर आतंकी से कनेक्शन के आरोप सच्चाई क्या है यह तो बाद में पता चलेगा लेकिन राजनीति गर्म है |कांग्रेस सांसद अहमद पटेल पर गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने गंभीर आरोप लगाकर इस्तीफ़ा मांग लिया है लेकिन कांग्रेस है वह कह रही है पहले उसका भी इस्तीफ़ा लो जिसके शिवराज सिंह से कनेक्शन है उस पर आरोप है की वह अवैध रूप से टेलीफोन एक्सचेंज चलाता है और आइएसआई से सम्बन्ध है । रूपाणी ने कहा कि भरूच के अस्पताल से जिन आईएस आतंकियों की गिरफ्तारी हुई है, अहमद पटेल उस अस्पताल के ट्रस्टी रहे हैं।

2014 में ही अहमद पटेल ने दे दिया था इस्तीफ़ा गुजरात चुनाव के दौरान बड़ी आतंकी घटनाओं को अंजाम देने की साजिस थी जिसे गुजरात की एटीएस ने नाकाम किया है जिसके बाद पकडे गए आरोपी मोहम्मद कासिम जिस भरुच अस्पताल में नौकरी करता था, उसके कर्ता-धर्ता अहमद पटेल ही हैं। हालांकि कांग्रेस ने सफाई दी है कि अहमद पटेल ने इस अस्पताल से साल 2014 में इस्तीफा दे दिया है। इतना ही नहीं, साल 2016 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से अस्तपाल का उद्घाटन करवाया था।

अभी तक कांग्रेस भाजपा पर हमलावर हो रही थी अब कांग्रेस बचाव की मुद्रा में आ गई है और सफाई पेश कर रही है और भाजपा को भी घेरने की कोशिस कर रही है की पहले उनके लोग इस्तीफ़ा दें |


Next Story
Share it