Top
Aap Ki Khabar

श्री श्री रविशंकर के मुहीम से क्यों हैं परेशान सियाशी दूकानदार

श्री श्री रविशंकर के मुहीम से क्यों हैं परेशान सियाशी दूकानदार
X

लखनऊ -(राजीव ) न ही वो पक्षकार हैं और न ही सरकार के प्रतिनिधि फिर भी अयोध्या के हिन्दू धर्म के नेताओं ने इन्हें नाकारा मुस्लिम पहले से ही नकार रहे है मुस्लिम नेता और एडवोकेट जफरयाब जिलानी ने पहले ही श्री श्री रविशंकर के प्रयासों को नकार दिया है फिर भी यह सीएम योगी आदित्यनाथ से मिले हैं और अब अयोध्या जा रहे हैं कई अखाडा परिषद् ने पहले से ही श्री श्री का विरोध किया है उन्होंने कहा है की राम मंदिर के लिए लाठियां उन्होंने खाई है फिर अचानक श्री श्री रविशंकर कहा से आ गए |


अब सवाल यह उठता है कि श्री श्री को कौन आगे कर रहा है राम मंदिर की मुहीम को आगे बढ़ने के लिए |
आपको बता दें कि रविशंकर लखनऊ से सुबह 11 बजे अयोध्या पहुंचेंगे जिसके बाद वह राम जन्मभूमि के दर्शन करेंगे और फिर इकबाल अंसारी से मिलेंगे. इसके बाद वह मुस्लिमों के पक्षकार सुन्नी वक्फ बोर्ड के हाजी महबूब से मिलेंगे और फिर राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष नृत्य गोपाल दास और महंत ज्ञानदास से मुलाकात करेंगे.

हालाकि शिया वक्फ बोर्ड पूरी तरह से राम मंदिर के पक्ष में है और श्री श्री से जाकर बोर्ड के चेयरमैन वासिम रिज़वी मिल भी चुके हैं | उनसे मिलने के बाद ही श्री श्री रविशंकर राम मंदिर के लिए आपसी सहमती बनाने के लिए जब निकले तो कई धर्म गुरुओं के निशाने पर भी आ गए है | अब एक सवाल यह भी है की कहीं इस मामले को जिन्दा रख कर कुछ लोग अपनी सियासती दूकान को बचाए तो नहीं रखना चाहते है |

Next Story
Share it