aapkikhabar aapkikhabar

ऑपरेशन से लगता है डर और नार्मल डिलिवरी चाहती है तो करे पांच आसान उपाय



aapkikhabar
+2

डेस्क-(पीयूष त्रिवेदी)सिजेरियन के बाद बहुत ज्‍यादा देखभाल की जरूरत पड़ती है और अगर सही से देखभाल न कि गई तो यह आपके लिए ही खतरा बन सकता है. इसलिए जहां तक संभव हो नॉर्मल डिलिवरी ही करवानी चाहिए. इससे आपका शरीर भी ठीक रहता है और आपको कम खतरों का सामना करना पड़ता है.नार्मल डिलिवरी सिजेरियन डिलिवरी से ज्‍यादा सही होती ह.क्‍योंकि सिजेरियन डिलिवरी करवाने पर स्‍ट्रैच मार्क्‍स आते है. साथ ही सिजेरियन डिलिवरी के बाद कई बातों का ध्‍यान रखना पड़ता है. जबकि नार्मल डिलिवरी में ऐसी कोई भी बड़ी समस्‍या नहीं आती. इसलिए ज्‍यादातर गर्भवती महिलाएं सिजेरियन डिलिवरी नहीं, बल्कि नार्मल डिलिवरी करवाना पसंद करती हैं.बच्‍चे को जन्‍म देते वक्‍त आपको बेहद पीड़ा सहनी होती है और यह आसान नहीं होता. अगर आप कमजोर हैं और आप में खून की कमी है तो आपके लिए यह काफी मुशकिल होगा. इसलिए अपने स्‍वास्‍थ्‍य का पूरा-पूरा ध्‍यान रखें. ताकि आपको उस वक्‍त कम से कम तकलिफ हो.अच्‍छा भोजन करेंगर्भवस्‍था के दौरान आपने डॉक्‍टर के कहे अनुसार ही भोजन करें. नार्मल डिलिवरी में आपके शरीर से दो से तीन चार सौ एम.एल. ब्लड जाता है. इसलिए ताकत और पोषण के लिए खाने में ज्‍यादा से ज्‍यादा पोषक तत्‍व खाएं. प्रेगनेंसी में आयरन और कैल्‍शियम की बहुत जरुरत पड़ती है इसलिए जितना भी हो सके अपने आहार में इसे जरुर शामिल करें.
देखे आगे की स्लाइड्स

पिछली स्लाइड     अगली स्लाइड


सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के