aapkikhabar aapkikhabar

अजीब परंपरा पिता ही बनता है अपने बेटी का पति



aapkikhabar
+2

डेस्क-हमने तो अक्सर देखा है शादी होने के बाद बेटी अपने माँ-बाप के घर से विदा होकर ससुराल जाती है। एक बाप बेटी को अपने घर से विदा करता है। ऐसे ही दुनियाभर में शादी से जुड़ी अनेकों परंपराएं हैं। लेकिन एक ऐसी भी जगह है जहां बेटियों की शादी अपने बाप से ही होती है। शायद आपको विश्वास ना हो लेकिन लेकिन बांग्लादेश के मंडी जनजाति में ऐसी ही परंपरा है।


यहां शुरू से ही मंडी जनजाति के लोग इस परंपरा को निभाते आ रहे है।हर लड़की का सपना होता है उसका पति उसके पिता के जैसा हो मगर बांग्लादेश की मंडी जनजाती की लड़कियां बचपन से ही अपने पिता के साथ शादी करने के सपने देखती हैं। 


बांग्लादेश के सेंट्रल फॉरेस्ट रीजन मोधोपुर में रहने वाले एक परिवार से भेंट की। तीस साल की ओरोला डॉलबोट के पिता की मौत तब हो गई थी, जब वे बहुत छोटी थी।पिता की मौत के बाद ओरोला की माँ ने दूसरी शादी नॉटेन नाम के आदमी से की। ओरोला ने बताया जब वे तीन वर्ष की थी तब से वे अपने पिता नॉटेन को बहुत पसंद करती थी। कभी-कभी वे यह भी सोचती थी कि उनकी माँ कितनी भाग्यशाली है कि उन्हें दूसरी बार नॉटेन जैसा पति मिला है।

पिछली स्लाइड     अगली स्लाइड


सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के