aapkikhabar aapkikhabar

कुत्ते-बिल्लियों की मंत्री है मेनका देखिए किसने कहा



कुत्ते-बिल्लियों की मंत्री है मेनका देखिए किसने कहा

किसान नेता वीएम सिंह

पीलीभीत (शारिक परवेज - कुत्ते-बिल्लियों की मंत्री है मेनका ऐसा ही कुछ किसान मज़दूर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष, पूर्व विधायक व किसान नेता वीएम सिंह पीलीभीत एक शादी समारोह के दौरान पत्रकारों से भी रूबरू होते हुये कहा। किसान नेता वीएम सिंह ने किसानों की बात की लेकिन जब उनसे पीलीभीत के विकास का पहिया टाइगर रिजर्व के बारे में सवाल किया तो उनका जवाब बेतुका था। 


किसान नेता वीएम सिंह से पीलीभीत टाइगर रिजर्व की तरफ से सरकार की अनदेखी करने का सवाल पूछा गया। उन्होने इसपर बेतुका जवाब दिया उन्होने अपनी ममेरी बहन केन्द्रीय मंत्री व पीलीभीत की सांसद मेनका गांधी के लिये कहा कि वो कुत्ते-बिल्लियों की सांसद है। टाइगर का सवाल उनसे करो मुझसे इंसान की बात करों। 

 

पीलीभीत में चुनावी मसले पर उनकी आंख भर आयी। उन्होने अपना दर्द ब्यान करते हुये कहा कि बार-बार जनता को तोहफे देने का काम उनको ताकत देने के बावजूद भी शायद कहीं ना धोखा रहा लेकिन इस बार अगर जनता को बदलाव चाहिये उन्हे लगता है कि सही समय आ गया है तो उसके लिये जनता को दम भरना पडेगा। मैने हर मुख्यमंत्री-प्रधानमंत्री से लडकर किसानों का फायदा कराया है। 

 

उनसे सवाल पूछा गया कि उनकी जो पार्टी है वो लोकसभा चुनाव स्वंय लडेगी या फिर किसी के साथ गठबंधन में इसपर बोले कि पार्टी तो हमने पिछले साल बनायी हम 20 सालों से लोगो के दिलों में है। पार्टी से लोगो पर कोई फर्क नहीं पडता। पार्टी एक जरिया होता है आगे चलने और बढने का। हमारी पार्टी का निशान है टेªक्टर चलाता किसान तो किसान की पार्टी है किसान का सबकुछ है और किसान के बिना आज कोई व्यापारी नहीं है।


 

पीलीभीत को राजनेताओं से धोखा मिलने की बात वीएम सिंह हमेशा से करते आये है इसबार उनसे पूछा कि उन्होने कहा था कि आजतक धोखा मिलता आया है पीलीभीत को क्या यहाॅ के राजनैतिक रहनुमा है वो धोखेबाज रहे इसपर बोले कि चुनाव के वक्त लोग या तो हिन्दु बन जाते है या मुसलमान, वो किसान नहीं रहता, इंसान नहीं रहता पीलीभीत से प्यार करने वाला नहीं रहता और चुनाव के 20 दिन बाद फिर कहता है कि भाई गलती हो गयी। यहाॅ के नेता फिर पाॅच साल बाद हथकण्डे अपनाता है और लोग कहीं दारू तो कहीं पैसा देकर वोट लेते है। 

-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के