aapkikhabar aapkikhabar

पीलीभीत में राम नाईक ने छात्राओं को किया सम्मानित



पीलीभीत में राम नाईक ने छात्राओं को किया सम्मानित

राज्यपाल राम नाईक छात्र-छात्राओं को सम्मानित करने पहुॅचे।

पीलीभीत - पीलीभीत के पूरनपुर में आज उ0प्र0 के राज्यपाल राम नाईक छात्र-छात्राओं को सम्मानित करने पहुॅचे। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार राज्यपाल गन्ना कृषक महाविधालय में राजभवन से सरकारी हेलिकाप्टर से उतरे जिसके बाद मंच पर उनके स्वागत के साथ वंदेमातृम गान गाया गया। इस दौरान उन्होने मेधावियों को तो सम्मानित किया ही वहीं उन्होने राम मन्दिर और यूपी सम्मिट पर भी अपने तर्क दिये। राज्यपाल के कार्यक्रम में एक मात्र पूरनपुर के विधायक ही दिखाई दिये जबकि जनपद के अन्य तीन विधायक और सांसद केन्द्रीय मंत्री नदारत थे।


उतर प्रदेश के राज्यपाल पहली बार पीलीभीत के पूरनपुर तहसील की धरती पर उतरे, उन्होने यहा के गन्ना कृषक महाविधालय के मेधावि छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया। इसके बाद उनका स्वागत किया गया और स्कूली बच्चों ने वंदेमातृम गान किया। राज्यपाल ने अपने सम्बोधन में बच्चों को शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित किया और उन्हे पूरी लगन निष्ठा से पढाई करने के साथ शिक्षा के महत्व पर भी विचार रखे। कार्यक्रम के समाप्त होने के बाद वो मीडिया से रूबरू हुये। उन्होने मीडिया के सामने समाजवादी पार्टी की सरकार से अच्छा कार्य भाजपा की योगी सरकार द्वारा किये जा रहे कार्यो को बताया और लाॅ एण्ड आर्डर पर भी योगी सरकर को सपा से अच्छे नम्बर दिये। कार्यक्रम के दौरान पूरनपुर के विधायक बाबूराम पासवान तो रहे लेकिन गौरतलब यह है कि इतने बडे कार्यक्रम से भाजपा के पीलीभीत विधायक संजय गंगवार, बरखेडा विधायक किशन लाल राजपूत व बीसलपुर विधायक रामसरन वर्मा सहित भाजपा की सांसद व केन्द्रीय मंत्री मेनका संजय गांधी नदारत रहे।


राम नाइक राम मन्दिर में भी बोले
उन्होने एक बार में एक सवाल करने और उसका जवाब पूरा होने तक दूसरा सवाल नहीं करने की बात की। मीडिया के राम मन्दिर मुददे पर किये गये सवाल पर राज्यपाल राम नाइक बोले कि राम मन्दिर का मुददा सर्वोच्च न्यायालय के आधीन है, वो पहले भाजपा के थे लेकिन जब वो राज्यपाल बने तो उन्होने राजनीति से इस्तीफा दे दिया। उन्होने राम मन्दिर मुददे पर कहा कि आपका सवाल बीजेपी का सवाल है। मैं खुद को जब राज्यपाल ककी भूमिका में देखता हूॅ तो सर्वोच्च न्यायालय इस घटना पर विचार कर रहा और उससे पहले अगर कोई शोध लाया तो उसपर भी सर्वोच्च न्यालय का जो भी फैसला होगा उसे सभी को मानना होगा।


उत्तर प्रदेश में 40 लाख लोगो को रोजगार मिलेगा।
इस दिनों उत्तर प्रदेश में चल रहे निवेश कार्यक्रम ‘‘यूपी सम्मिट’’ पर उन्होने प्रदेश सरकार की तारीफ की उन्होने कहा कि उत्तर प्रदेश के आर्थिक और सामाजिक विकास का द्वार खुला है। 4.28 लाख करोड रूप्ये का निवेश यूपी में हो रहा यह आंकडे समझने में लोगो को तकलीफ भी होती है। करीब 1 लाख कम्पनिया आ रही है जोकि यूपी में निवेश करेगी। अगर यह सबकुछ ठीक चलेगा तो करीब 40 लाख लोगो को रोजगार मिलेगा। जब रोजगार बढता है तो अपने आप प्रदेश की इकोनामि बढेगी। मै इस महा कुम्भ का स्वागत करता हूॅ। उत्तर प्रदेश के बिगडते लाॅ एण्ड आर्डर पर कहा कि मुझे अभी उत्तर प्रदेश में साढे तीन साल हो गये है। पहले के समाजवादी पार्टी के वर्ष में और अबकी योगी सरकार आने के बाद जो बदलाव मैं देख रहा हूॅ, वो बदलाव निश्चित तौर पर समाधान देने वाला है, लेकिन अभी और तकलीफ और कष्ट सबको उठाने पडेगें। जब काम मिलेगा लोगो को तो उल्टे-सीधे ढंग से पैसा कमाने वाले नहीं मिलेगें। ऐसा ही काम योगी आदित्यनाथ की सरकार कर रही है। यूपी में एक अच्छा चित्र दिखाई देखायी दे रहा है और इतना निवेश एक बडी रकम में आना यह उसका एक परिचय है।



 


-



सम्बंधित खबरें



खबरें स्लाइड्स में


खबरें ज़रा हट के